रहीस भारती

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रहीस भारती
Rahis Bharti.jpg
पृष्ठभूमि की जानकारी
जन्म18 अक्टूबर 1982 (1982-10-18) (आयु 38)
मूलजयपुर, राजस्थान, भारत
शैलियांराजस्थानी लोक संगीत
तबला वादक
वाद्ययंत्रतबला
सक्रिय वर्ष2000–वर्तमान

रहीस भारती (जन्म; 18 अक्टूबर 1982) एक भारतीय राजस्थानी लोक संगीतकार[1], तबला वादक तथा धोद[2] संगीत समूह[3], बॉलीवुड मसाला ऑर्केस्ट्रा और जयपुर महाराज ब्रास बैंड के संस्थापक है।[4] ये 2000 के दशक की शुरुआत से ही फ्रांस में रहे हैं[5] तथा राजस्थानी संस्कृति के राजदूत और संरक्षक भी है।[6][7]

व्यक्तिगत जीवन और शिक्षा[संपादित करें]

रहीस भारती जिनका जन्म राजस्थान की राजधानी जयपुर[8] में 18 अक्टूबर 1982 में एक संगीत कलाकार परिवार में हुआ था।[9] उनका परिवार पिछले 7 पीढ़ियों से संगीत के क्षेत्र में है। भारती ने अपनी शिक्षा जयपुर से पूरी की।[10]

करियर[संपादित करें]

रहीस भारती ने 7 साल की आयु में ही संगीत के करियर में कदम रख दिया था।[11] साल 2002 में उन्होंने धोद नामक संगीत समूह[12] की स्थापना की और भारत के अनगिनत गांवों और कस्बों के 700 से अधिक स्थानीय राजस्थानी नर्तकियों, संगीतकारों और कलाकारों को प्रायोजित और प्रोत्साहित किया और उन्हें वैश्विक मंच पर पेश किया।[13] उन्होंने दुनिया भर के संगीतकारों के स्कोर के साथ सहयोग किया है, जिनमें स्पैनिश फ्लेमेंको संगीतकार, अफ्रीकी, यूरोप और अमरीका के पॉप कलाकार भी शामिल हैं।[14]

राजस्थानी कलाकारों और संगीतकारों के प्रोत्साहन के लिए भारती[15] ने फ्रांस में लिमडा एजेंसी[16] और एफएलआर प्रोडक्शन कंपनी की स्थापना की।[17]

भारती ने दुनिया भर के 110 से अधिक देशों में 2500 से अधिक संगीत कार्यक्रमों में प्रदर्शन किया है।[18][19]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Chronicle, Houston (21 अक्टूबर 2015). "Chronicle critics offer entertainment suggestions". Chron. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  2. "लॉकडाउन की वजह से फ्रांस में फंसा राजस्थानी बैंड, कोरोना पर गाया गाना". आज तक. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  3. "The Musical Joy of the Gypsies of Rajasthan | World Music Central.org". 6 अगस्त 2019. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  4. "The Dhoad Gypsies of Rajasthan are Taking Folk Music Global -". रॉलिंग स्टोन इंडिया. 18 जुलाई 2019. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  5. "फ्रांस के जैज फेस्टिवल में दिखेगा राजस्थानी धोद बैंड का जलवा". Patrika News (hindi में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  6. "रहीस भारतीः कभी जाना चाहते थे फ्रांस, आज 100 देशों में हैं इनके लिए दीवानगी, जानें पूरी कहानी". पत्रिका (hindi में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  7. "Performances of "The Jungle Book Jive" Reportedly Cancelled; Plans Unknown for The Lion King and Jungle Festival 2020 at Disneyland Paris". WDW News Today. 28 अप्रैल 2020. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  8. "धोद जिप्सी बैंड की अनूठी धुन पर जापानी गर्ल्स ने किया फोक डांस". दैनिक भास्कर. 14 दिसम्बर 2017. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  9. "अमरीका में होगा राजस्थानी संस्कृति का गुणगान". Patrika News (hindi में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  10. Hooks, Kristopher (23 सितम्बर 2015). "A Musical Journey to India". Sacramento Magazine. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  11. "शादी ब्याह में बजाते थे ढोल, अब यूरोप में लहराएंगे देश का परचम". ज़ी न्यूज़. 26 मई 2019. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  12. "Rahis Bharti musical artist". lanouvellerepublique. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  13. "Rajasthani artistes to perform at one of Europe's biggest music festivals - Times of India". द टाइम्स ऑफ इंडिया (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  14. "Spirit of India comes to Kingston". The Journal (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  15. "Republic Day 2020 : जयपुर के SMS स्टेडियम में सम्मानित होंगे राजस्थान के 'स्पेशल 38', देखें लिस्ट". Patrika News (hindi में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  16. "Qui sommes-nous ? - LIMDA - Le monde du spectacle indien". LIMDA (फ़्रेंच में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  17. "Saint-Orens-de-Gameville. Danses et musiques du Rajasthan à Altigone". ladepeche.fr (फ़्रेंच में). अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  18. "राजस्थानी संगीत करेगा फ्रांस में स्ट्रेस को दूर, कोरोना काल में राजस्थानी धोद बैंड देगा प्रस्तुति". नवभारत टाइम्स. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.
  19. "Musiche e sapori indiani nel Giardino del Centro S. Chiara". ladigetto. अभिगमन तिथि 18 फरवरी 2021.