रसूलाबाद, कानपुर देहात

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रसूलाबाद
धर्म गढ़ मंदिर, रसूलाबाद
धर्म गढ़ मंदिर, रसूलाबाद
रसूलाबाद is located in उत्तर प्रदेश
रसूलाबाद
रसूलाबाद
उत्तर प्रदेश में स्थिति
निर्देशांक: 26°40′37″N 79°46′41″E / 26.677°N 79.778°E / 26.677; 79.778निर्देशांक: 26°40′37″N 79°46′41″E / 26.677°N 79.778°E / 26.677; 79.778
देश भारत
राज्यउत्तर प्रदेश
ज़िलाकानपुर देहात ज़िला
तहसीलरसूलाबाद
जनसंख्या (2011)
 • कुल22,196
भाषाएँ
 • प्रचलितहिन्दी
समय मण्डलभारतीय मानक समय (यूटीसी+5:30)

रसूलाबाद (Rasulabad) भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के कानपुर देहात ज़िले में स्थित एक नगर है। यह इसी नाम की तहसील का मुख्यालय भी है।[1][2]

प्रशासनिक दर्जा[संपादित करें]

रसूलाबाद नगर पंचायत का गठन वर्ष २००५ में हुआ था। ब्रिटिश शासन में यह तहसील का मुख्यालय था लेकिन १८९४ में इस तहसील को विभाजित कर डेरापुर और बिल्हौर तहसीलों में सम्मिलित कर दिया गया था। वर्ष १९८८ में इस तहसील पुनर्सृजन हुआ।[3]

स्थिति[संपादित करें]

यह नगर कानपुर से पश्चिम दिशा में ६५ किलोमीटर दूरी पर कानपुर -बेला रोड पर स्थित है। इस नगर की झींझक रेलवे स्टेशन की दूरी १४ किलोमीटर है जो दक्षिण दिशा में स्थित है। इस नगर से उत्तर दिशा में स्थित बिल्हौर नगर ३० किलोमीटर दूर है।

यातायात[संपादित करें]

यह नगर जिले के मुख्यालय अकबरपुर (५२ किलोमीटर) से रोड द्वारा जुड़ा हुआ है। जहाँ रूरा होकर जा सकते हैं। कानपुर नगर (६४ किलोमीटर ) रोड द्वारा जुड़ा हुआ है। उत्तर दिशा में यह नगर रोड द्वारा बिल्हौर (३० किलोमीटर ) से जुड़ा हुआ है। इसका निकटतम रेलवे स्टेशन झींझक है जहाँ फ़ास्ट और सुपर फ़ास्ट रेलगाड़ियाँ ठहरती हैं। झींझक से पश्चिम की दिशा में इटावा, आगरा, दिल्ली मेरठ आदि नगरों को जा सकते हैं तथा पूर्व दिशा में कानपुर, लखनऊ, पटना, हावड़ा आदि नगरों से जुड़ा हुआ है। इस नगर से पश्चिम की ओर इटावा, फिरोजाबाद, आगरा, और दिल्ली के लिए बसों की सुविधाएं उपलब्ध हैं,वहीं कानपुर नगर एवं कानपुर देहात के मुख्यालय के लिए भी सीधी सेवाएं हैं, दक्षिण की ओर औरया जिला जो दिबियापुर होते हुए जाया जा सकता है, इस नगर से उत्तरी-पूर्वी मध्य में लखनऊ के लिए आगरा एक्सप्रेस वे जो 45 किलोमीटर अरौल होते हुए जा सकते हैं जिसकी दूरी 141 किलोमीटर है।

दर्शनीय स्थल[संपादित करें]

हजरत गुल पीर शाह रहमतुल्ला अलेह की दरगाह रसूलाबाद में हिन्दू मुस्लिम एकता का प्रतीक है, और यहां पर हर वर्ष उर्स मनाया जाता है, और यहां पर हिन्दू मुस्लिम एकता का प्रतीक धनगर बाबा का मंदिर भी है।[कृपया उद्धरण जोड़ें]जिले के रसूलाबाद कस्बा में स्थित यह शिव मंदिर धर्मगढ़ बाबा के नाम से विख्यात है। जहां लोगों की मनोकामना पूर्ण होती है। मान्यता है कि इस मंदिर में मत्था टेकने वाले प्रत्येक भक्त की मनोकामना पूरी होती है। सावन के महीने भर यह मंदिर रोशनी से जगमगाता है। मदिर में स्थापित शिव की प्रतिमा से एक अदभुत प्रकाश ज्योति लोगों को आकर्षित करती है। इस मंदिर की खास विशेषता है कि मंदिर को हिंदू-मुस्लिम भाई आस्था का प्रतीक मानते हैं। थाना परिसर में बने इस मंदिर से सटी मजार पर हिंदू चादर चढ़ाते हैं तो मुस्लिम मंदिर में दर्शन करते हैं। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि इसमें शिव प्रतिमा की स्थापना बहुत वर्ष पूर्व थाने में कार्यरत थानाध्यक्ष इसरार हुसैन ने स्वप्न के बाद सुबह उठकर कराई थी। जिसके बाद से रसूलाबाद थाने में आने वाला हर थानाध्यक्ष धर्मगढ़ बाबा मंदिर की सेवा करने में जुट जाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Uttar Pradesh in Statistics," Kripa Shankar, APH Publishing, 1987, ISBN 9788170240716
  2. "Political Process in Uttar Pradesh: Identity, Economic Reforms, and Governance Archived 2017-04-23 at the Wayback Machine," Sudha Pai (editor), Centre for Political Studies, Jawaharlal Nehru University, Pearson Education India, 2007, ISBN 9788131707975
  3. "जनपद प्रोफाइल - कानपुर देहात". मूल से 7 मई 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 सितंबर 2015.