रवि चोपड़ा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रवि चोपड़ा (जन्म: 27 सितंबर, 1946) हिंदी फिल्म जगत के एक प्रसिद्ध निर्माता-निर्देशक थे। कई उल्लेखनीय फिल्मों के साथ साथ दूरदर्शन पर प्रसारित धारावाहिक "महाभारत" से उन्हें विशेष ख्याति मिली। वे प्रसिद्ध फ़िल्म निर्माता निर्देशक बी आर चोपड़ा के सुपुत्र थे।[1]

इनका फिल्मी सफर फ़िल्म इत्तेफ़ाक से शुरू हुआ। १९६९ में आई हिन्दी फ़िल्म इत्तेफ़ाक में रवि चोपड़ा सहायक निर्देशक थे। उसके बाद डैनी, जीनत अमान और संजय खान अभिनीत फ़िल्म धुंध (१९७३) के रवि चोपड़ा संयुक्त निर्देशक थे। बतौर स्वतंत्र निर्देशक पहली फ़िल्म अमिताभ बच्चन और सायरा बानो अभिनीत फ़िल्म ज़मीर जो १९७५ में रिलीज़ हुई थी। १९८० में आई फ़िल्म 'द बर्निंग ट्रेन' के बाद चर्चा में आए। ये एक बहुसितारा फ़िल्म थी जिसमे उस समय के चोटी के बहुत से सितारे मौजूद थे।

वर्ष 2003 में अमिताभ बच्चन और सलमान खान द्वारा अभिनीत इनकी फिल्म 'बाग़बान' भी काफी सफल रही।

68-वर्षीय रवि चोपड़ा का एक लंबी बीमारी के बाद 12 नवंबर 2014 को मुंबई में निधन हुआ।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "नहीं रहे 'बागबान', 'महाभारत' के निर्देशक रवि चोपड़ा". नवभारत टाईम्स. 12 नवम्बर 2014. अभिगमन तिथि 13 नवम्बर 2014.