रमेश चंद्रा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रमेश चंद्रा भारतीय रियल एस्टेट कंपनी यूनिटेक के संस्थापक है। उनकी निवल मूल्य $ 600 मिलियन है, जो सिर्फ एक साल पहले 9.6 अरब डॉलर से काफी कम है। यह मुख्य रूप से अचल संपत्ति मंदी के बीच यूनिटेक के शेयर मूल्य में भारी कमी की वजह से था।.[1][2][3]

प्रारम्भिक जीवन और शिक्षा[संपादित करें]

रमेश चंद्र, 1941 में एक बैंकर के घर में पैदा हुआ थे और फर्रुखाबाद, उत्तर प्रदेश में अपनी स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने आईआईटी खड़गपुर में प्रवेश लिया, जहाँ उन्होंने संरचनात्मक इंजीनियरिंग का अध्ययन किया।

कैरियर[संपादित करें]

कोलकाता में ब्रिज एंड रूफ कंपनी में एक छोटी कार्यकाल पूरा करने के बाद अपनी स्नातक की पढ़ाई के बाद उन्होंने स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग में इंग्लैंड में साउथेम्प्टन विश्वविद्यालय से प्रमुख के लिए छोड़ दिया। हालांकि, उन्होने पारिवारिक जिम्मेदारियों ओर रुख किया और १९६५ में वे भारत वापस आ गए और रुड़की में एक सरकारी प्रयोगशाला में काम करने लगे। 1967 में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, दिल्ली के एक स्नातक से शादी की और अगले वर्ष दोनो दिल्ली वापस आ गए जहाँ उनकी पत्नी ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में एक अनुसंधान कार्य चलाया, जबकि उनहोने एक संरचनात्मक इंजीनियर के रूप में कार्य शुरु किया। 1972 में अन्त में, चार अपने दोस्तों के साथ, वह संयुक्त तकनीकी सलाहकार प्राइवेट लिमिटेड, मुख्य रूप से एक मिट्टी जांच कंपनी दिल्ली में शुरू कर दिया। उन्होने 1985 में अचल संपत्ति और सिविल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में गुड़गांव में मध्यवर्गीय घरों और कई प्रतिष्ठित परियोजनाओं का निर्माण, उत्तर प्रदेश और लीबिया, अन्य मध्य पूर्वी देशों में पूरा किया। उसकी सार्वजनिक रूप कारोबार कंपनी, यूनिटेक, जिन्हे उन्के दो बेटों अजय और संजय चलाते है, एक 350 एकड़ (1.4 km2) एक ग्रेग नॉर्मन हस्ताक्षर गोल्फ कोर्स के साथ दिल्ली के उपनगरों में लक्जरी घरों के सामुदायिक भवन है और इंडोनेशिया के सलीम को ग्रुप के साथ साझेदारी में विशेष आर्थिक क्षेत्र की स्थापना की।

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

उन्होने डॉ॰ पुष्पा चंद्रा से शादी की है और दो बच्चों, अजय चन्द्र और संजय चंद्रा के पिता है। वे अब नई दिल्ली में रहते है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]