रघुराजपुर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
रघुराजपुर गाँव - विरासत हस्तशिल्प ग्राम

रघुराजपुर' ओड़िसा के पुरी जिला का 'विरासत हस्तशिल्प ग्राम' है। यह अपने सुन्दर पट्टचित्रों के कारण प्रसिद्ध है। पट्टचित्र की कलाकारी का इतिहास ५वीं शती तक जाता है। इसके अलावा यह गोतिपुआ नृत्य के लिये भी प्रसिद्ध है जो ओड़िसी नृत्य का पूर्ववर्ती नृत्य है। ओड़िसी नृत्य के मह साधक एवं गुरू केलुचरण महापात्र की जन्मभूमि भी यही है। इनके अलावा यह गाँव तुसार चित्रकला, तालपत्रों पर चित्रकारी, पत्थर एवं काष्टकला, गोबर के खिलौने आदि के लिये भी प्रसिद्ध है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]