रघुनाथ सहाय यादव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रघुनाथ सहाय यादव

कार्यकाल
1957 से 1962

लखनऊ

जन्म हथगांव फतेहपुर
राष्ट्रीयता भारतीय

रघुनाथ सहाय यादव,भारत के उत्तर प्रदेश की दूसरी विधानसभा सभा में विधायक रहे। 1957 उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के 168 - किशनपुर विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस की ओर से चुनाव में भाग लिया। [1]

मूल निवासी ये हथगांव के थे। जो अब हुसैनगंज निर्वाचन छेत्र में आता है। इनका इक कॉलेज भी है चौधरी रघुनाथ सहाय के नाम से है जो हथगाव में उपस्थित है। ये प्रतिष्ठित जमींदार थे। इन्होंने 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन में भी भाग लिया था।जिसमें इनको जेल में भी रहना पड़ा। इनका जीवन बहुत भव्य राजा वाला था इनकी लोग चेयरमैन साहब के नाम से जानते थे । 1940 से 1952 तक ये 30 गांवो के जमींदार थे। इनकी शिक्षा बनारस विश्व विद्यालय में हुई थी। हार्ट फेल के कारण इनकी मृत्यु 1964 में हो गई।

इनके दो पुत्र है। बड़े बेटे का नाम सिकंदर बाबू जी और छोटे बेटे को पुरंदर नाथ सिंह या छोटे बाबू जी के नाम से जानते है। ये परिवार जाना माना जमींदार घराना रहा है हमेशा से । ये यादव परिवार बहुत ही प्रभावशाली रहा है । इनके छोटे बेटे पुरंदर नाथ सिंह ने सन 1997 में समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर लिया। और फिर इनका प्रभाव बढ़ता ही गया । इस परिवार की नयी पीढ़ी भी बहुत सोशल वर्क करते रहते है । राज यादव, पंकज यादव इनकी अगली जेनरेशन को लेकर जाएंगे।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "उत्तर प्रदेश विधान सभा". मूल से 10 अगस्त 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 जून 2020.