यरुशलम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
यरुशलम
जेरुसलेम
Jerusalem infobox image.JPG
Emblem of Jerusalem.svg
चिन्ह
Flag of Jerusalem.svg
ध्वज
यहूदी יְרוּשָׁלַיִם
(Translit.) Yerushalayim
अरबी सामान्यतः القـُدْس (अल-क़ुद्स);
इज़्रायल में आधिकारिक أورشليم القدس
(उरशालिम-अल-कुद्स)
नाम का अर्थ यहूदी: (नीचे देखें),
अरबी: "पवित्र"
सरकार City
जिले
जनसंख्या 933,113 (2012)[1] (2007)
अधिकार क्षेत्र साँचा:Convert/LinAoffDbSonNa
महापौर नीर बरकत
जालस्थल www.jerusalem.muni.il[i]
येरुशलम की स्थिति

यरुशलम (इब्रानी : येरुशलयिम, अरबी : अल-क़ुद्स) इज़्रायल देश की राजधानी है, जो कुछ देशों द्वारा विवादित है। ये यहूदी धर्म, ईसाई धर्म और इस्लाम धर्म, तीनों की पवित्र नगरी है। इतिहास गवाह है कि येरुशलम प्राचीन यहूदी राज्य का केन्द्र और राजधानी रहा है। यहीं यहूदियों का परमपवित्र सुलैमानी मन्दिर हुआ करता था, जिसे रोमनों ने नष्ट कर दिया था। ये शहर ईसा मसीह की कर्मभूमि रहा है। यहीं से हज़रत मुहम्मद स्वर्ग गए थे।

राजधानी होने के अलावा यह एक महत्‍वपूर्ण पर्यटन स्‍थल भी है। इस शहर में 158 गिरिजाघर तथा 73 मस्जिदें स्थित हैं। इन गिरिजाघरों और मस्जिदों के अलावा भी यहाँ देखने लायक बहुत कुछ है। द इजरायल म्‍यूजियम, याद भसीम, नोबेल अभ्‍यारण, अल अक्‍सा मस्जिद, कुव्‍वत अल सकारा, मुसाला मरवान, सोलोमन टेंपल, वेस्‍टर्न वॉल, डेबिडस गुम्‍बद आदि। यहाँ के प्रमुख दर्शनीय स्‍थल हैं।

मुख्य आकर्षण[संपादित करें]

इजरायल संग्रहालय[संपादित करें]

यह इज़्रायल का सबसे बड़ा म्‍यूजियम है। इस म्‍यूजियम में प्राचीनतम ग्रंथ रखे हुए हैं। इजरायल म्‍यूज़ियम में प्राचीन इज़्रायल शहर का मॉडल भी रखा हुआ है। इसमें पुरातात्‍विक वस्‍तुओं का भी अच्‍छा संग्रह है। इस म्‍यूजियम का अधिकांश भाग 2010 ई. तक पुर्नर्निमाण कार्यों के कारण आम जनता के लिए बंद कर दिया गया है।

याद भसीम[संपादित करें]

यह इज़्रायल का होलोकॉस्‍ट म्‍यूजियम है। इस म्‍यूजियम में प्रवेश का कोई शुल्‍क नहीं है। दस वर्ष से कम उम्र के बच्‍चों को म्‍यूजियम के सभी भागों में प्रवेश की अनुमति नहीं है।

नोबेल अभ्‍यारण[संपादित करें]

यह अभ्‍यारण जेरुसलम के पुराने शहर के मुस्लिम भाग में स्थित है। शहर के इस भाग में मुस्लिम काल के उम्‍मैयद शासन से लेकर ऑटोमन शासन के दौरान बनी महत्‍वपूर्ण इमारतों को देखा जा सकता है। यह भाग उस समय से लेकर आज तक मुस्लिम धर्म की शिक्षा का महत्‍वपूर्ण केंद्र बना हुआ है। यह अभ्‍यारण 35 एकड़ क्षेत्रफल में फैला हुआ है। इस अभ्‍यारण में फव्‍वारे, बगीचे, गुम्‍बद आदि बने हुए हैं।

अल अक्‍सा मस्जिद[संपादित करें]

इसी मस्जिद से इस्‍लाम धर्म की उत्‍पति मानी जाती है। माना जाता है कि इसी स्‍थान से इस्‍लाम धर्म के पैंगम्‍बर मुहम्‍मद साहब स्‍वर्ग के लिए प्रस्‍थान किए थे।

कुव्‍वत अल सकारा[संपादित करें]

येरुशलम में तीन धर्मों का संगम होता है।

यह इमारत नोबेल अभ्‍यारण के मध्‍य में अल अक्‍सा मस्जिद के विपरीत दिशा में स्थित है। यह जेरुसलम का सबसे महत्‍वपूर्ण भाग माना जाता है। इस इमारत का गुंबद सोने का बना हुआ है। इस इमारत का दीवाल अष्‍टकोणीय है। इसको अरबी शैली में सजाया गया है।

मुसाला मरवान[संपादित करें]

यह संरचना नोबेल अभ्‍यारण के दक्षिणी भाग में स्थित है। यह भवन 8वीं सदी में उम्‍मैयद शासन में बनवाया गया था। इस इमारत का प्रयोग में वर्तमान में नमाज पढ़ने के लिए किया जाता है।

सोलोमन टेंपल[संपादित करें]

बाइबिल में इसका उल्‍लेख प्रथम मंदिर के नाम से मिलता है। इस मंदिर का निर्माण 10वीं शताब्‍दी ईसा पूर्व में हुआ था। लेकिन बेबीलोन के शासकों ने 586 ई. में इसे तोड़ डाला था। बाद में इस मंदिर का पुर्नर्निमाण किया गया। आज भी इस मंदिर के अवशेषों को देखा जा सकता है। यह मंदिर हिब्रू संप्रदाय से संबंधित है।

वेस्‍टर्न वॉल[संपादित करें]

इसे कोटेल के नाम से भी जाना जाता है। यह जेरुसलम के पुराने शहर में स्थित है। यह वॉल ईसाई धर्म से संबंधित है। इसका निर्माण 19 ई. के करीब हुआ था।

डेबिडस गुम्‍बद[संपादित करें]

यह गुम्‍बद पुराने शहर में जियोन पहाड़ी पर बना हुआ है। हिब्रू बाइबिल के अनुसार डेविड को यहीं पर दफनाया गया था।

आवागमन[संपादित करें]

हवाई जहाज द्वारा जेरुसलम जाना सबसे सुगम माना जाता है। वेन गुरियन अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डा यहाँ का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा है। यह हवाई अड्डा विश्‍व के प्रमुख देशों से नियमित फ्लाइटों के माध्‍यम से जुड़ा हुआ है।

गैलरी[संपादित करें]

चित्रमाला[संपादित करें]

Panorámica de Jerusalén desde el Monte de los Olivos.jpg

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Population figures - End of 2007" (PDF). Israel Ministry of Foreign Affairs. 2007-12-31. http://www.cbs.gov.il/population/new_2009/table3.pdf. अभिगमन तिथि: 2007-12-31. 

अन्य स्रोत[संपादित करें]

  • Cheshin, Amir S.; Bill Hutman and Avi Melamed (1999). Separate and Unequal: the Inside Story of Israeli Rule in East Jerusalem Harvard University Press
  • Cline, Eric (2004) Jerusalem Besieged: From Ancient Canaan to Modern Israel. Ann Arbor: University of Michigan Press ISBN 0-472-11313-5.
  • Collins, Larry, and La Pierre, Dominique (1988). O Jerusalem! Simon and Shuster, N.Y. ISBN 0-671-66241-4
  • Gold, Dore (2007) The Fight for Jerusalem: Radical Islam, The West, and the Future of the Holy City Regnery Publishing, Inc. ISBN 978-1-59698-029-7
  • Köchler, Hans (1981) The Legal Aspects of the Palestine Problem with Special Regard to the Question of Jerusalem Vienna: Braumüller ISBN 3-7003-0278-9
  • The Holy Cities: Jerusalem produced by Danae Film Production, distributed by HDH Communications; 2006
  • Wasserstein, Bernard (2002) Divided Jerusalem: The Struggle for the Holy City New Haven and London: Yale University Press. ISBN 0-300-09730-1

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]


सरकारी

सांस्कृतिक

शिक्षा

मानचित्र

निर्देशांक: 31°47′N 35°13′E / 31.783°N 35.217°E / 31.783; 35.217