मौसम (2011 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मौसम
Mausam 2011 film.jpg
फ़िल्म का पोस्टर
निर्देशक पंकज कपूर
निर्माता मधु मंताना
शीतल विनोद तलवार
पटकथा पंकज कपूर
अभिनेता शाहिद कपूर
सोनम कपूर
शायन मुंशी
संगीतकार प्रीतम
छायाकार बिनोद प्रधान
संपादक ए. श्रीकर प्रसाद
वितरक एरोस इंटरनेशनल
प्रदर्शन तिथि(याँ)
  • 23 सितम्बर 2011 (2011-09-23)
समय सीमा 168 मिनट
देश भारत
भाषा हिन्दी

मौसम 2011 की एक हिन्दी प्रेम-नाटक फ़िल्म है। इस फ़िल्म का लेखन और निर्देशन पंकज कपूर ने किया है। शाहिद कपूर और सोनम कपूर ने इस फिल्म के मुख्य पात्रों का अभिनय किया है। पहले फ़िल्म का प्रदर्शन १६ सितम्बर २०११ को किया जाना था, लेकिन भारतीय वायु सेना से एनओसी मिलने में हुई देरी के कारण इसे २३ सितम्बर २०११ को प्रदर्शित किया गया।[1][2][3]

सारांश[संपादित करें]

फ़िल्म की कहानी को 1992 से 2002 के 10 साल की अवधि में दिखाई गई है, जिसमें बाबरी मस्जिद विध्वंस, बंबई के दंगे, १९९३ मुंबई बम विस्फोट, कारगिल युद्ध, 9/11 हमला और गोधरा काण्ड के बाद के दंगों के विध्वंस के संदर्भ शामिल हैं।

फ़िल्म में दो प्रेमियों, पंजाब के छोटे से गांव का हैरी (शाहिद कपूर) और एक कश्मीरी लड़की आयत (सोनम कपूर) की कहानी दिखाई गई है। १९९२ में आयत के माता-पिता की कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा हत्या हो जाने पर उसकी बुआ उसे पंजाब के मल्लुकोट गांव में ले आती है। जहाँ उसकी मुलाकात गांव के हैरी (शाहिद कपूर) से होती है, और उनके बीच प्यार हो जाता है। हालांकि कुछ समय बाद बाबरी मस्जिद के विध्वंस की खबर सुनने के बाद, दंगे के डर से आयत अपने परिवार के साथ हैरी को सूचित किए बिना ही मुंबई चले जाते हैं। इस बीच, हैरी को भारतीय वायु सेना में पायलट के रूप में चुना जाता है, और इस प्रकार वह भी मल्लूकोट छोड़कर चला जाता है।

1999 में, हैरी और आयत फिर से लंदन में मिलते हैं। जहाँ आयत 1993 में मुंबई बम विस्फोटों में अपने रिश्तेदार को खोने के बाद, पिछले सात सालों से लंदन में रह रही थी। हैरी भारतीय वायु सेना द्वारा एक विशेष कार्य के लिये लंदन आता है। लंदन में वे फिर से एक-दुसरे के नज़दीक आते है। आयत के परिवार वाले उसकी शादी हैरी के साथ करने के लिए मान जाते है। आयत ने इस समाचार को हैरी को बताने के लिये उसे अपने घर पर आमंत्रित करती है, लेकिन उसी रात भारत-पाकिस्तान के बीच कारगिल युद्ध शुरू हो जाता है, और हैरी को तत्काल भारत जाना पडता है। इस बीच, आयत के चाचा का निधन हो जाता है और वह अपने पूरे परिवार के साथ पुनः लंदन से मल्लूकोट आ जाते है। आयत और हैरी दोनों एक-दूसरे से संपर्क करने की कोशिश करते हैं लेकिन विफल होते हैं। इस बीच आयत मल्लुकोट से अहमदाबाद और वहाँ से पुनः लंदन चली जाती है।

इसी बीच एक मिशन के दौरान हैरी का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो जमीन पर गिर जाता है, इस दुर्घटना में हैरी के बाएं हाथ में अर्ध-लकवा हो जाता है। और खुद को दो महीने तक ठीक होने की आवश्यकता होती है। ठीक होने के बाद वह अपने भांजे के सालगृह मनाने स्विट्ज़रलैण्ड में अपनी बहन के पास आ जाता है। जहाँ उसकी बहन उसे आयत को पुनः खोजने के लिये कहती है। उस दौरान आयत अपने चचेरे भाई अकरम के साथ न्यूयॉर्क मे रहने लगी थी। इस दौरान स्विट्ज़रलैण्ड में एक ट्रेन में यात्रा करते समय हैरी, आयत को अकरम और उसके बेटे के साथ देख सोचता है कि शायद आयत अब विवाहित है, और वह सभी उम्मीदें खो कर, उसे पूरी तरह से भूलने का फैसला करता है।

११ सितंबर २०११ को न्यूयॉर्क में ट्विन टॉवर में हुए आतंकवादी हमलें के कारण अमेरिका और यूरोप में मुस्लिमों के विरुद्ध घृणा अपराध होने लगते है। और आयत, अकरम के साथ अहमदाबाद आ जाती है। संयोग से उसी दौरान हैरी भी अपने एक मित्र के शादी में शामिल होने अहमदाबाद आता है। इस बीच, आयत भी हैरी को भूला कर अकरम से शादी करने का फैसला करती हैं। हालांकि 2002 में जब शादी शुरू होती है, अहमदाबाद में दंगे शुरू हो जाते है। आयत दंगो से अपनी जान बचा कर भागती है, जहाँ उसे हैरी मिलता है और उसे बचा लेता है। हैरी और आयत छुप जाते है और दंगों के खत्म होने का इंतजार करते हैं, लेकिन वे दंगाईयों की नजर में आ जाते है और वे उन पर हमला कर देते है। उनसे बच कर वे एक मेले में छिप जाते है जहां वे एक घोड़े और एक बच्चे की जान बचाते है।

आयत अपने भाग्य को कोसती हैं, लेकिन हैरी उसे समझाता है और उज्ज्वल भविष्य को देखने के लिए आश्वस्त करता है।

फ़िल्म के उपसंहार में यह पता चला है कि, हैरी और आयत शादी कर लेते हैं, और उनके द्वार बचाये बच्चे को गोद ले लेते है।

पात्र[संपादित करें]

  • शाहिद कपूर - हरिंदर सिंह (हैरी) के रूप में
  • सोनम कपूर - आयत रसूल के रूप में
  • अनुपम खेर - महाराज किशन के रूप में
  • सुप्रिया पाठक - फातिमा के रूप में
  • शायन मुंशी - यासीन के रूप में
  • कमल चोपड़ा - गुलाम रसूल, अयात के पिता के रूप में
  • माया मनकोटिया - पामेला सिंह (पम्मो), हैरी की बहन के रूप में
  • कमल तिवारी - प्रो. सदप्रकाश सिंह (बाजी), हैरी के पिता के रूप में
  • हैरी तांगरी - कटार महेंद्रपाल सिंह (एमपी) के रूप में, पम्मो के मंगेतर/पति
  • अदिती शर्मा - रज्जो के रूप में
  • सुरजीत सिंह धाखी - दर्जी के रूप में
  • अरविंदर सिंह भट्टी - डॉ. बलविंदर सिंह के रूप में
  • मनोज पहवा - गुलज़ारी के रूप में
  • जस भाटिया - करतार के रूप में
  • मनिंदर वेली - दीपा के रूप में
  • अमनदीप सिंह - जीता के रूप में
  • वैभव तलवार - अकरम के रूप में
  • लोर्न एंडरसन - मारिया के रूप में
  • अंकित मोहन - लेफ्टिनेंट अशफाक हुसैन के रूप में
  • रहिल वोरा - लेफ्टिनेंट टीएन अय्यर के रूप में

संगीत[संपादित करें]

मौसम
साउंडट्रैक प्रीतम द्वारा
जारी ११ अगस्त २०११
रिकॉर्डिंग २०११
संगीत शैली फिल्म संगीत
लंबाई ६२ मिनट, ३८ सेकंड
लेबल टी-सीरीज़
निर्माता हितेश सोनिक, सिमाब सेन, गौरव वासवानी, अभिजीत वाघणी, अग्गी फर्नांडेस, तनुज टीकू, समीर निचानी
प्रीतम कालक्रम

बॉडीगार्ड
(२०११)
मौसम
(२०११)
टेल मी ओ खुदा
(२०११)

फिल्म के लिए संगीत रचना प्रीतम ने की है, तथा गीत इरशाद कामिल ने लिखे हैं। १३ गीतों वाली फिल्म की संगीत एल्बम को टी-सीरीज़ ने ११ अगस्त २०११ को रिलीज़ किया था।[4]

गीत सूची[संपादित करें]

गीत सूची
क्र॰शीर्षकSinger(s)अवधि
1."रब्बा मैं तो मर गया ओए"शाहिद माल्या४:१३
2."सज धज के"मीका सिंह, पंकज कपूर४:५४
3."इक तू ही तू ही"हंस राज हंस७:१३
4."पूरे से ज़रा सा कम है"राशिद खान३:४८
5."आग लगे उस आग को"करसन सागाथिया३:१३
6."मल्लो मल्ली"तोची रैना३:४२
7."रब्बा मैं तो मर गया ओए" (रिप्राइज)राहत फ़तेह अली खान४:४३
8."सज धज के" (देसी मिक्स टाइगर स्टाइल)मीका सिंह, पंकज कपूर४:५५
9."सज धज के" (क्लब मिक्स टाइगर स्टाइल)मीका सिंह, पंकज कपूर४:५६
10."इक तू ही तू ही" (रिप्राइज)शाहिद माल्या६:२१
11."इक तू ही तू ही" (महफ़िल मिक्स)वडाली बंधु५:५३
12."मल्लो मल्ली" (रिप्राइज)लैहंबर हुसैनपुरी, हार्ड कौर३:४३
13."मल्लो मल्ली" (रीमिक्स)तोची रैना4:49
कुल अवधि:१:०२:३८

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]