मोटू पतलू

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मोटू पतलू
शैली कॉमेडी
सृजनात्मक निर्देशक रोनोजोय चक्रवर्ती
सितारे

मोटु

पतलू
'थीम' संगीत निर्देशक सन्देश सन्ध्या[1]
शुरुआत 'थीम' मोटु और पतलू की जोड़ी
संगीत निर्देशक सन्देश सन्ध्या
निर्माण का देश भारतभारत
भाषा(एं) हिन्दी
सत्र संख्या 4
प्रकरणों की संख्या 250+
निर्माण
निर्माता दीपा शाह
स्थल फुरफुरी नगर
प्रसारण अवधि 10–11 मीनेट
निर्माण कंपनी कस्मस इन्टरतेइन्टमेन्ट,सिंगापुर
वितरक कस्मस इन्टरतेइन्टमेन्ट,सिंगापुर
प्रसारण
मूल चैनल निक
निक एच डी
श्रव्य प्रारूप डल्बि डिजिटल
मूल प्रसारण 16 अक्टूबर 2012 (2012-10-16)
मूल प्रसारण 16 अक्टूबर 2012 (2012-10-16) – वर्तमान
बाह्य सूत्र
निर्माण जालस्थल

मोटू पतलू भारत में तैयार किया गया बच्चों का कार्टून शो है। इसके मुख्य पात्र मोटू और पतलू हैं। यह दोनों मित्र हैं। दोनों हर बार कोई हास्यप्रद समस्याओं में घिर जाते हैं और सौभाग्य से बच निकलते हैं। शो में उनके अन्य सहयोगियों के नाम घसीटा राम, इंस्पेक्टर चिंगम और डॉक्टर झटका हैं।

कहानी[संपादित करें]

ये कहानी फुरफुरी नगर के दो दोस्तों, मोटू और पतलू के आसपास घूमती रहती है। दोनों के ऊपर परेशानी आते रहती है और वे दोनों मिल कर उस परेशानी को हल भी करते हैं। मोटू को समोसे से बहुत प्यार होता है। अपने परेशानियों वाले पलों में भी मोटू अपने समोसों के प्यार के कारण फुरफुरी नगर के सबसे अच्छे समोसे बनाने वाले के पास से आए दिन समोसे चोरी करते रहता है। वहीं पतलू उसकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहता है।

इन दोनों के अलावा घसीटाराम, इस्पेक्टर चिंगम और डॉ॰ झटका भी एक दूसरे की मदद करते रहते हैं, पर कभी कभी डॉ॰ झटका के अजीबो-गरीब प्रयोगों के लिए घसीटाराम झूठ बोल कर या किसी और तरह से मोटू और पतलू को फंसा भी देता है। मोटू जब समोसे खाता है, तो कुछ पल के लिए बहुत ही ज्यादा ताकतवर बन जाता है।

इन सभी से दूर, इन सभी का एक मुख्य दुश्मन भी है, जिसे "जॉन द डॉन" नाम से जाना जाता है, जो हमेशा से डॉन बनने की सोचता रहता है, लेकिन मोटू और पतलू के कारण उसका कोई भी प्लान कामयाब नहीं हो पाता है।

किरदार[संपादित करें]

  • मोटू: मोटू दो मुख्य पात्रो मे से है। मोटू एक मोटा आदमी जिसे समोसा खाना पसन्द है। वह एक माली (गार्डनर)है। मोटू ज़ादातर कहता है, खाली पेट मेरे दिमाग की बत्ती नही चलती, तुम ही कुछ सोचो
  • पतलू: पतलु भी दो मुख्य पात्रो मे से है। वह एक पतला आदमी जिसे चाय पीना पसन्द है। वह एक सल्हाकार है जो मोटू या फुरफुरी नगर के लोगो को सल्हा देता है। पतलू ज़ादातर कहता है ,आइडिया (योजना)
  • डॉ झटका: डॉ झटका मोटू पतलू का मित्र है। वह एक वैज्ञानिक है जो हमेशा यन्त्र बनाता रहता है तथा वह अपने परम मित्र घसीटाराम के साथ मिलकर मोटू पतलू को मूर्ख बनाता रहता है। झटका को आलू के परान्ठे (पन्जाब का पकवान) खाने का शौक है। वह ज़ादातर कहता है, मार सुटिया पापड़ वाले नू
  • घसीटाराम: वह डॉ झटका का परम मित्र है। वह एक फ़ोटोहग्राफ़र है। घसीटा को रसगुल्ले खाने का शौक है। वह हमेशा कहता है, मुझे बीस साल का तजुरबा है
  • चिन्गम: वह मोटू पतलू का मित्र है। वह फुरफुरी नगर का पोलिस इन्सपेक्टर है जिसे इडली खाने का शौक है। वह हमेशा कहता है, द नेम इस चिन्गम, इन्सपेक्टर चिन्गम, वाय फीयर वेन चिन्गम इस हियर, चिन्गम के चन्गुल से बचना यमपोसीबल बोलेतो यामपोसीबल, हय स्टोप स्टोप इन द नेम औफ लौ, तुम्हे कानून की कसम भारत माता की कसम हिन्दुस्थान की कसन स्टोप
  • जॉन: जॉन एक चोर है जो हमेशा फुरपुरी नगर मे चोरी करता रहता है पर मोटू पतलू जॉन को पकड़ कर चिन्गम के हवाले कर देते है। इसलिये वह हमेशा मोटू पतलू को फुरफुरी नगर से निकालने के लिये नयी-नयी योजनाये बनाता है। वह हमेशा कहता है,जॉन बनेगा डॉन
  • चायवाला
  • नंबर वन
  • नंबर टू
  • बॉक्सर
  • बबलगम
  • जॉनी
  • अम्मा
  • सब्ज़ीवाली
  • वायेरस
  • मेयर मिस्टर सिन्ह
  • सनी
  • छोटू
  • मुन्नी
  • ट्रबलगम
  • दादा झटका

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Nickelodeon presents home-grown animated show 'Motu Patlu by Cosmos Entertainment/Maya Digital Studios". Bollywoodtrade.com. अभिगमन तिथि १ जनवरी २०१३.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]