मैंगलोर सेंट्रल रेलवे स्टेशन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मंगलुरु सेंट्रल
मैंगलोर सेंट्रल
क्षेत्रीय रेल और लाइट रेल स्टेशन
Mangalore railway station.JPG
स्टेशन आंकड़े
पता ओल्ड कैंट रोड, हम्पनकट्टा, मंगलुरु, दक्षिण कन्नड़, कर्नाटक
भारत
निर्देशांक 12°51′48″N 74°50′36″E / 12.8634°N 74.8433°E / 12.8634; 74.8433
अन्य बस अड्डा, टेक्सी स्टैंड, ऑटो रिक्शा स्टेंड
संरचना प्रकार मानक (ग्राउंड स्टेशन पर)
प्लेटफार्म 4
पटरियां 14
वाहन-स्थल उपलब्ध
अन्य जानकारियां
आरंभ 1907; 113 वर्ष पहले (1907)
विद्युतीकृत हाँ
अभिगम्य Handicapped/disabled access
स्टेशन कूट MAQ
ज़ोन दक्षिण रेलवे
मण्डल पलक्कड़
स्वामित्व भारतीय रेलवे
संचालक दक्षिण रेलवे
स्टेशन स्तर संचालित
सेवायें
पहला स्टेशन   भारतीय रेलवे   निकटतम स्टेशन

मैंगलोर सेंट्रल (आधिकारिक रूप से मंगलुरु सेंट्रल ) (स्टेशन कोड: MAQ), मैंगलोर शहर का मुख्य रेलवे स्टेशन है। यह कर्नाटक राज्य के प्रमुख रेलवे स्टेशनों में से एक है और यह भारतीय रेलवे के दक्षिणी रेलवे क्षेत्र के तहत तिरुवनंतपुरम सेंट्रल के बाद तट का तीसरा सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। और यह रेलवे स्टेशन पलक्कड़ रेलवे मंडल के अंतर्गत आता है। और इसी शहर के पास एक अन्य रेलवे स्टेशन थोकुर रेलवे स्टेशन है जो कोंकण रेलवे के करवार रेलवे मंडल के अंतर्गत आता है, और इस मैंगलोर सेंट्रल से दक्षिण रेलवे भारतीय रेलवे के कोंकण रेलवे के लिए संयोजकता प्रदान करता है।

स्थान[संपादित करें]

मैंगलोर सेंट्रल रेलवे स्टेशन, ओल्ड कैंट रोड, हंपनकट्टा में स्थित है। शहर का एक अन्य प्रमुख रेलवे स्टेशन, मैंगलोर जंक्शन दरबार हिल, मैंगलोर, 575007 में स्थित है।[1]

इतिहास[संपादित करें]

मैंगलोर में रेल संपर्क 1907 में स्थापित किया गया था। पश्चिमी घाट के माध्यम से बनाया गया एक मीटर गेज रेलवे ट्रैक, मंगलौर को हासन से जोड़ता है। मीटर गेज ट्रैक को हासन के रास्ते मैंगलोर से बैंगलोर को जोड़ने वाले एक ब्रॉड गेज ट्रैक में परिवर्तित कर दिया गया। मई 2006 [2] में इस ट्रैक को माल ढुलाई के लिए खोला गया था और दिसंबर 2007 में यात्री यातायात के लिये।[3] मंगलौर क्षेत्र में ट्रैक नेटवर्क एक त्रिकोणीय पैटर्न पर आधारित है, जिसमें मंगलौर सेंट्रल, मंगलौर जंक्शन और नेत्रवती नदी रेलवे पुल त्रिभुज के शीर्ष पर स्थित है। मैंगलोर शहर के मैंगलोर सेंट्रल से ऐतिहासिक पुराने रेलवे गुड्स-शेड के लिए एक रेलवे लाइन जाती है, जो मंगलौर शहर के बंदर क्षेत्र में है। 1929-1930 में एक वर्ष के लिए अविभाजित भारत में सबसे लंबे मार्ग पर चलने वाली ट्रेन मैंगलोर सेंट्रल से बनती थी। यह मैंगलोर से पेशावर जाने वाली ग्रैंड ट्रंक एक्सप्रेस थी। ट्रेन ने 104 घंटे में खैबर दर्रे पर मंगलौर से पेशावर की दूरी तय करती थी। 1930 के बाद ग्रैंड ट्रंक एक्सप्रेस का मार्ग बंद कर दिया गया और ट्रेन का मूल मेट्टुपालयम, कोयम्बटूर से कर दिया गया।[4]

सेवाएं[संपादित करें]

यहां की ट्रेनें शहर को भारत की प्रमुख राजधानियों चेन्नई, बैंगलोर, हैदराबाद, तिरुवनंतपुरम (दक्षिणी रेलवे के माध्यम से), मुंबई, दिल्ली, अजमेर, अहमदाबाद (कोंकण रेलवे के माध्यम से) और कई प्रमुख शहरों से जोड़ती हैं।[5][6]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Name changed". The Hindu. 8 November 2007. अभिगमन तिथि 5 July 2008.
  2. "Mangalore -Hassan rail line open for freight traffic". The Hindu Business Line. 6 May 2006. मूल से 30 सितंबर 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 13 October 2006.
  3. "Bangalore-Mangalore train service from December 8". The Hindu. 24 November 2007. मूल से 10 जनवरी 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 October 2008.
  4. "संग्रहीत प्रति". मूल से 5 अप्रैल 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 30 अक्तूबर 2019.
  5. "The Beginning". Konkan Railway Corporation Limited. मूल से 27 January 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2008.
  6. "Southern Railway to operate special trains". The Hindu. 23 August 2011. मूल से 30 अगस्त 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 December 2011.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]