मेघालय में शिक्षा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मेघालय राज्य में राज्य सरकार, निजी संगठनों एवं धार्मिक संस्थानों द्वारा संचालित विद्यालय होते हैं। शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी ही है। अन्य भारतीय भाषाएं जैसे असमिया, बंगाली, हिन्दी, गारो, खासी, मीज़ो, नेपाली और उर्दु वैकल्पिक विषयों की श्रेणी में पढ़ाई जाती हैं। माध्यमिक शिक्षा की शिक्षा बोर्ड्स से सम्बद्ध है जैसे:

शिक्षा बोर्ड[संपादित करें]

१०+२+३ शिक्षा पद्धति के अन्तर्गत्त, माध्यमिक शिक्षा पूर्ण होने के उपरान्त विद्यार्थी प्रायः २ वर्ष कनिष्ठ महाविद्यालय (जूनियर स्कूल) में शिक्षण लेते हैं जिसे प्री-युनिवर्सिटी कहते हैं, या फ़िर उच्चतर माध्यमिक शिक्षा सुविधा वाले किसी मेघालय शिक्षा बोर्ड या केन्द्रीय शिक्षा बोर्ड से सम्बद्ध विद्यालय में प्रवेश लेते हैं। विद्यार्थी तीन में से किसी एक विधा को चुनते हैं: कला, वाणिज्य या विज्ञान। दो वर्ष का कार्यक्रम सफ़लतापूर्वक पूर्ण करने के उपरान्त विद्यार्थी किसी सामान्य या व्यावसायिक स्नातक पाठ्यक्रम में प्रवेश ले सकते हैं।

विश्वविद्यालय[संपादित करें]

महाविद्यालय[संपादित करें]

  • अचेंग रांगमानपा कालेज, महेन्द्रगंज
  • डॉन बास्को कालेज, तुरा
  • नार्थ ईस्ट एड्वेण्टिस्ट कालेज, थाडलास्केन
  • कियांग नांगबाह गवर्नमेंट कालेज, जोवाई
  • एड लबान कालेज, शिलांग
  • लेडी कियाने कालेज, शिलांग
  • नोंगतलांग कालेज, नोंगतलांग
  • नोंगस्टोएन कालेज, नोंगस्टोएन
  • री-भोई कालेज, नोंगपोह
  • सेंट एन्थोनी कालेज, शिलांग
  • सेंट एड्मंड कालेज, शिलांग
  • सेंट मैरी कालेज, शिलांग
  • शंकरदेव कालेज, शिलांग
  • सेंग खासी कालेज, शिलांग
  • शिलांग कालेज
  • शिलांग कामर्स कालेज
  • सोहरा गवर्नमेंट कालेज, चेरापुंजीड कालेज, शिलांग

अन्य संस्थान[संपादित करें]

इनके अलावा बहुत से अन्य संस्थान जैसे:

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी सूत्र[संपादित करें]