मुहम्मद वलीउल्लाह वली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मुहम्मद वलीउल्लाह "वली"
जन्म7 जनवरी 1967
हसनपूर, वैशाली जिला, बिहार
व्यवसायप्रभारी फ़ारसी सेवा, आकाशवाणी, नई दिल्ली
निवासहसनपूर वैशाली जिला, बिहार
जीवनसाथीइशरत परवीन
सन्तान2

मुहम्मद वलीउल्लाह क़लमी नाम 'वली': वलीउल्लाह वली का जन्म 7 जनवरी 1967 को भारत के बिहार प्रदेश वैशाली जिला महुआ के हसनपूर वस्ती नामक गांव में हुआ। पिता मुहम्मद अमीनउल्लाह और माता ज़ाहिदा खातून हैं। इनकी विद्या एम.ए., डिग्री फ़ारसी भाषा में जवाहरलाल विश्वविद्यालय नई दिल्ली से प्राप्त की।

पेशावराना ज़िन्दगी[संपादित करें]

वलीउल्लाह वली बी.एन्.मंडल विश्वविद्यालय मधेपुरा, बिहार के अंतर्गत अररिया महाविद्यालय, अररिया में फ़ारसी विभागाध्यक्ष के पद पर कार्यरत रहे हैं। वर्तमान में वली आकाशवाणी (आल इन्डिया रेडियो) नई दिल्ली विदेश प्रसारण प्रभाग में फ़ारसी सेवा के प्रभारी हैं। आल इंडिया रेडियो विभिन्न विदेशी भाषाओं में प्रसारण करता है, जिन में फ़ारसी सेवा भी एक प्रमुख प्रसारण है। वलीउल्लाह वली बहुभाषी हैं। वह उर्दू, हिन्दी, इंग्लिश, फ़ारसी, दरी, ताजकी और अरबी भाषाओं में कौशल हैं। उनकी उर्दू एवं फ़ारसी भाषाओं में साहितिक कृतियां मौजूद हैं।  

साहित्यिक जीवन[संपादित करें]

वली को फ़ारसी, उर्दू, हिन्दी और अंग्रेजी भाषाओं में विशेश रूचि है। वह 1989 से 1994 ई. तक नई दिल्ली के जवाहरलाल विश्वविद्यालय में फ़ारसी भाषा एवं साहित्य के छात्र रहे। 1997 में ईरान सरकार के आमंत्रण पर ईरान की यात्रा की। वर्तमान में आल इंडिया रेडियो के फ़ारसी प्रसारण प्रभाग नई दिल्ली में कार्यरत हैं।  

रचनाएं[संपादित करें]

1. आरज़ू-ए-सुबह : कविता संकलन, जिस के लिये उनहें दिल्ली उर्दू अकाडमी और बिहार उर्दू अकाडमी की तरफ़ से पुरस्कार प्राप्त हुवा।

पुरस्कार[संपादित करें]

  • दिल्ली उर्दू अकाडेमी, दिल्ली सरकार द्वारा, उर्दू अकाडेमी पुरस्कार [1] - सत्र २०१३
  • बिहार सरकार द्वारा, बिहार उर्दू अकाडेमी पुरस्कार - सत्र २०१३
  • बज़्म-ए-शैदा-ए-अदब, मथुरा, उत्तरप्रदेश, द्वारा "तन्वीर-ए-सुखन" पुरस्कार - सत्र २०१३।
  • उर्दू गिल्ड जम्मू व कश्मीर द्वारा "फ़ख्र-ए-उर्दू" पुरस्कार - सत्र २०१४।

व्यक्तिगत जीवन [संपादित करें]

पत्नी इशरत परवीन हैं और दो संतान - पुत्री तलअत आफ़रीन और पुत्र शह्रयार आदिल।

मीडिया में वली[संपादित करें]

  • यूट्यूब पर वली का कलाम 

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कडियां[संपादित करें]

  • लाइब्ररी बज़्म-ए-उर्दू नेट पर वली की किताब आरज़ू-ए-सुबह
  • पंजंद पर वली की कवितायें
  • किताबें उर्दू लाइब्ररी आर्ग पर वली की कविताओं का संग्रह "आरज़ू-ए-सुबह"।