मुस्लिम स्टूडेंट्स आर्गेनाइजेशन ऑफ़ इंडिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मुस्लिम स्टूडेंट्स आर्गेनाइजेशन ऑफ़ इंडिया एक सुन्नी मुस्लिम युवाओं की भारत में सबसे बड़ी संस्था है।


मुस्लिम स्टूडेंट्स आर्गेनाइजेशन ऑफ़ इंडिया भारतीय सुन्नी युवकों की देश की सबसे बड़ी संस्था है। इसको सन 1977 में वकील इस्माईल वफा़ ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में स्थापित की थी।

हज़रत सय्यद मुहम्मद अमीन मिया कादरी और हज़रत अख्तर रजा खान अजहरी मिया की दुआओं से यह संस्था देश के कोने कोने में पहुँच चुकी है।

मुस्लिम नौजवानों में देश से मुहब्बत और दीन से वाबस्तगी करना इसका अहम् मकसद है जिस पर यह अग्रर है।

नारा[संपादित करें]

कुरान के आयात, कुनू माअससादेकीन यानी सच्चों के साथ हो जाओ यह इसका नारा है और इसके अनुसार संस्था के माध्यम से हजा़रों मुसलमान विद्यार्थियों को नई दिशा मिली है।

शाखाएँँ[संपादित करें]

इस समय संस्था की शाखाएँँ अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी और जामिया हमदर्द समेत उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, मणिपुर, आन्ध्रा प्रदेश और महाराष्ट्र में काम कर रही हैं।

उद्देश्य[संपादित करें]

  • मुसलमान युवकों में इस्लामी धर्म-चिंतन को आम करना।
  • स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटीज और मदारिस-इ-इस्ल्मामिया में नौजवानों के ज़रिये दीनी मिल्ली माहौल को आम करना!
  • नौजवानों में समाज और मुल्क के लिए उनकी ज़िम्मेदारी का एहसास दिलाना!
  • समाज में पनप रही बुरायिओं से नौजवानों को दूर रखते हुए उनके खात्मे में इनका अहम् रोले अदा करवाना
  • समाज में इस्लाम में प्यार मुहब्बत अमन के पैघाम के ज़रिये नफरतों को दूर करना और भाईचारे का महौल बनाना !
  • तालीम के प्रचार प्रसार में अहम् किरदार अदा करना
  • स्टूडेंट्स को उनके करियर और जॉब्स के मुताल्लिक जानकारी फ़राहम करना !

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

www.msoofindia.net