मुण्डा भाषाएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(मुण्डा भाषा से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मुण्डा भाषाएँ
भौगोलिक
विस्तार:
भारत, बांग्लादेश
भाषा श्रेणीकरण: ऑस्ट्रो-एशियाई
  • मुण्डा भाषाएँ
उपश्रेणियाँ:
खेरवारी (उत्तर)
कोरकू (उत्तर)
कोरापुट (रेमो, सवारा)
आइसो ६३९-२६३९-५: mun
Munda-Sprachen.png
भारत में मुण्डा भाषाओं का विस्तार
आस्ट्रेशियाई (Austro-Asiatic) भाषाएँ ; इनमें मुण्डा भाषाएँ पीले रंग में दिखायी गयी हैं।

मुण्डा एक भाषापरिवार है जिसे भारत तथा बांग्लादेश के लगभग १ करोड़ लोग बोलते हैं। यह ऑस्ट्रो-एशियाई भाषा-परिवार की एक शाखा है। इसका अर्थ है कि मुण्डा भाषा वियतनामी भाषा और खमेर भाषा से सम्बंधित है। हो, मुण्डारी और सन्ताली इस भाषासमूह की मुख्य भाषाएँ हैं।[1][2] भारत में मुण्डा के अलावा ऑस्ट्रो-एशियाई परिवार की दो अन्य शाखाएँ मिलती हैं: निकोबारी भाषाएँ तथा खसिक भाषाएँ

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]