मुकुंद नायक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मुकुंद नायक
जन्म १९४९
सिमडेगा, झारखंड, भारत
आवास रांची , झारखंड
राष्ट्रीयता भारतीय
व्यवसाय लोक गायक, गीतकार और नर्तक
जीवनसाथी श्रीमती द्रोपदी देवी
पुरस्कार संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार, २०१९
पद्म श्री,२०१७

मुकुंद नायक (जन्म १९४९), रांची , झारखंड के एक भारतीय कलाकार हैं। वह एक लोक गायक, गीतकार और नर्तक हैं। नायक नागपुरी लोक नृत्य झुमइर का प्रतिपादक हैं।[1][2] वे पद्म श्री (२०१७) और संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार (२०१९) के प्राप्तकर्ता हैं।[3] [4][5][6]

आरंभिक जीवन[संपादित करें]

उनका जन्म १९५७ में सिमडेगा जिले, झारखंड के बोब्बा गाँव में हुआ था। उनका जन्म घासी परिवार में हुआ, जो पारंपरिक रूप से संगीतकार होते हैं। उन्होंने देवगढ़ विद्यापीठ में बी.ए. कि पढ़ाई की।[1][2][7]

पुरस्कार और सम्मान[संपादित करें]

नायक 30 मार्च, 2017 को नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में एक नागरिक निवेश समारोह में पद्म श्री पुरस्कार प्राप्त करते हुए।
  • संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार (२०१९)
  • पद्म श्री , २०१७
  • कला संस्क्रती विभाग द्वारा संस्कृत सम्मान।
  • प्रभात खबर द्वारा झारखंड गौरव सम्मान।
  • लोक कला समिति और दैनिक जागरण द्वारा झारखंड रत्न पुरस्कार। [8]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Dashboard. "Out of the Dark". democraticworld.in.
  2. "Song of India". thecollege.syr.edu.
  3. Pioneer, The. "Balbir Dutt, Mukund Nayak bag Padma Shri".
  4. "Sangeet Natak Akademi Awards: President Ram Nath Kovind Honours 42 Artistes". www.indiatoday.in.
  5. "मुकुंद नायक को राष्ट्रपति ने दिया संगीत नाटक अकादमी अवार्ड". bhaskar.com.
  6. "पद्मश्री मुकुंद नायक को मिला संगीत नाटक अकादमी अवार्ड". jagran.com.
  7. "Mukund Nayak - Ranchi. - Lens Eye, Neither tomorrow nor today, it's now". 20 May 2012.
  8. "Mukund Nayak - Ranchi. - Lens Eye, Neither tomorrow nor today, it's now". 20 May 2012.