मिस्त्र पर मुस्लिम विजय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मिस्त्र मुस्लिम विजय
मुस्लिम विजय और अरब-बाइज़ेन्टाइन युद्ध का भाग
Giza Plateau - Great Sphinx with Pyramid of Khafre in background.JPG
तिथि 639, 642 ईस्वी
स्थान मिस्र, लिबिया
परिणाम रशीदुन खिलाफत विजय
क्षेत्रीय
बदलाव
मिस्त्र, खिलाफत मेँ शामिल
योद्धा
वाइजेँटाईन साम्ररज्य रशीदुन खिलाफत
सेनानायक
सम्राट हरक्यूलस

थिओडोरस
कोस्टेँट द्दितीय
अलेक्जेड्रिया का साइस

खलीफा हजरत उमर

आम्र इब्न अल अस
जुबैर इब्न अल मुआबिया
अबैदा इब्न अस समीत
खिज्र बिन हुजैफा

मिस्त्र पर मुस्लिम विजय[संपादित करें]

मिस्र पर मुस्लिम विजय के प्रारंभ काल में मिस्र पर वाइजेँटाइन या पूर्वी रोमन साम्राज्य था जिसकी राजधानी कांस्टेटिनोपल थी इसी दौरान दिसम्वर 639 ईस्वी में खलीफा हजरत उमर केवल चार हजार सैनिको के साथ मिस्त्र विजय अभियान पर आये थे सैनिको में अधिँकाश अरब जनजाति के थे जिन्हे किँदी कहा जाता था मुस्लिम सेना ने पहले पुलुसियम पर कब्जा कर लेती जो पूर्वी रोमन साम्राज्य का पूर्वी गेट माना जाता था इसी बीच धीरे धीरे अरब मुस्लिमों ने पूरे मिस्त्र पर कब्जा कर शासन स्थापित किया रोमनो को मिस्त्र से भगा दिया गया इसी कारण मिस्त्र सहित अफ्रिका महाद्दीप में इस्लामी संस्कृति का गहरा प्रभाव पड़ा और इस्लाम का तीव्र गति से प्रचार हुआ।

सन्दर्भ[संपादित करें]