माशूक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माशूक
माशूक.jpg
माशूक का पोस्टर
निर्देशक मिर्ज़ा ब्रदर्स
निर्माता मिर्ज़ा ब्रदर्स
लेखक मिर्ज़ा ब्रदर्स
अभिनेता अयूब ख़ान,
आयशा जुल्का,
संगीतकार श्याम-सुरेंदर
प्रदर्शन तिथि(याँ) 10 जुलाई, 1992
देश भारत
भाषा हिन्दी

माशूक 1992 में बनी हिन्दी भाषा की प्रेमकहानी फ़िल्म है। इसमें अयूब ख़ान और आयशा जुल्का प्रमुख भूमिकाओं में हैं। फिल्म तो लोकप्रिय नहीं रही लेकिन इसके गीत प्रसिद्धि पाए हैं। विशेषकर "कौन हो तुम जो दिल में" और "ओ यारा कैसे तेरी बेवफाई" सदाबहार गीत हैं।

संक्षेप[संपादित करें]

सुमन राय एक अमीर परिवार से संबंधित है और दो भाइयों, केदारनाथ और संदीप के साथ एक कोठी ​​में रहती है। वह शंकर कुमार नामक एक मध्यम वर्गीय व्यक्ति के साथ प्यार में पड़ती है। उसने उसे अपने भाइयों के सामने पेश किया, जिन्होंने उसे पूरी तरह से खारिज कर दिया। उन्होंने सुमन से फिर से उससे मिलने से मना कर दिया। इसके बजाय सुमन ने को जोर दिया और शादी कर ली। इस पर नाराज, संदीप विवाह को रोकने के लिए एक बंदूक लेकर जाता है। उसके और शंकर के बीच एक झड़प होती है और संदीप की मौत हो जाती है। पुलिस शंकर को गिरफ्तार करती है और अदालत के सामने उसे लाती है, जो उसे दोषी नहीं मानती। लेकिन केदारनाथ ने उसे दोषी पाया है और उसे या उसकी बहन के साथ उसे अब कोई लेना-देना नहीं है। सुमन शंकर और उसके छोटे भाई करण के साथ रहती है। सालों बाद, करण बड़ा हो गया और साथी सहकर्मी, निशा से प्यार करता है। करण यह नहीं जानता कि निशा केदारनाथ की बेटी है और न तो शंकर और न ही केदारनाथ उन्हें एक-दूसरे को देखने की इजाजत देंगे। अगर वे बने रहें, तो इतिहास को दोहराने की संभावना अधिक है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी श्याम-सुरेंदर द्वारा संगीतबद्ध।

क्र॰शीर्षकगीतकारगायकअवधि
1."दीवाना दिल ढूंढे"इन्दीवरकुमार सानु5:21
2."कौन हो तुम जो दिल में"गौहर कानपुरीकविता कृष्णमूर्ति, अभिजीत5:29
3."ओ सरफिरी ओ दीवानी"इन्दीवरकुमार सानु6:36
4."ओ यारा कैसे तेरी बेवफाई"गौहर कानपुरीकविता कृष्णमूर्ति, कुमार सानु6:02
5."तू भी तड़पेगी"इन्दीवरकुमार सानु4:51
6."तुम्हें दिल दे चुके हैं"गौहर कानपुरीकुमार सानु, कविता कृष्णमूर्ति5:12
7."ये धड़कन मेरे दिल की"इन्दीवरकुमार सानु, कविता कृष्णमूर्ति7:36

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]