मारी एन्टोंइनेट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रानी मेरी अन्त्वाओनेत लुई १६ की पत्नी थी ,जो अभिमानी,मुर्ख एवं फिजूलखर्च महिला थी. वः हमेशा चाटुकारों से घिरी रहती थी और राजा को सही सलाह नही दे सकती थी .राज कार्यो में उसका अनावश्यक हस्तक्षेप था.क्रांति के समय उसकी प्रसिद्ध उक्ति थी की "लोग केक क्यों नही खाते?".२० जून 179२ को वः लुई १६ के साथ ऑस्ट्रिया की सीमा पार करते हुए पकड़ी गयी.उसे गिलोटिन पर चढ़ा दिया गया.