मारहरा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मारहरा जिला एटा के अन्तर्गत आता एक ब्लॉक है। इसमें कुछ गाँव भी हैं। जो नगला सिलौनी, जिसे गहराना के नाम से भी जाना जाता है। जिसके बाद सिलौनी और बाग का नगला भी एक गांव है। क्योंकि इस गांव के आस-पास आम व अमरूद के अधिकतर बाग यानि पेड़ हैं, इसलिए इसे बाग का नगला कहा जाता है।[1]

मारहरा के बारे में[संपादित करें]

मारहरा या मारहरा शरीफ के रूप में जाना जाता है यह दुनिया भर से मुसलमानों के लिए प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है। यहां मुसलमानों के पैगम्बर मोहम्मद साहब के वंशजों की समाधि स्थल हैं और यहां पर उन की बहुत की चीज भी है जो प्रत्येक उर्स पर प्रदर्शित की जाती है,और मुस्लिम मान्यताओं के अनुसार कहा जाता है के यहां सात कूतुब की मजार एक साथ है है जो विश्व में और कहीं नहीं है, यहां से श्रद्धा रखने वाले श्रद्धालु बरकाती केहलाते है, मारहरा भी अपने स्वादिष्ट आम के लिए मशहूर है। मोहल्लाह कम्बोह यहाँ का सबसे बड़ा मोहल्लाह है।

जनसांख्या[संपादित करें]

सन् २०११ की जनसांख्या के अनुसार मारहरा की कुल जनसांख्या ४७,७७२ है। जिस्में से ५३% पुरुष् हैं और ४७% महिलायें हैं। मारहरा की एक औसत साक्षरता दर ६३% है।


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 16 जून 2004 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 जून 2004.