मानव व्यहार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मानव व्यवहार किसी वयक्ति के विभिन्न दशाओं में भौतिक क्रिया-कलाप और प्रेक्षणीय भावनात्मक दशाओं के समूह को कहते हैं, अथवा यह मानव जाति के विविध व्यवहारों के लिए सामूहिक रूप से प्रयुक्त शब्दावली भी है। मनुष्य व्यहवार अलग अलग अवस्था में अलग अलग परिस्थितीयों के साथ बदलता रहता है परन्तु कुछ मुख्य प्रतिकिर्याओं में कोई बदलाव नहीं आता। मनुष्य का व्यवहार उसके परिवार तथा उसके माहौल के अनुसार होता है। अक्सर मनुष्य व्यवहार उसके चारो और होने वाली घटनाओ से प्रभावित होता है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]