मानव कौल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मानव कौल
Manav Kaul.jpg
मानव कौल २०१० में
जन्म 19 दिसम्बर 1976 (1976-12-19) (आयु 43)
व्यवसाय अभिनेता ,नाटककार ,मंच निर्देशक

मानव कौल (अंग्रेजी :Manav Kaul) (जन्म १९७६) एक भारतीय फ़िल्म [1] अभिनेता ,नाटककार, लेखक तथा मंच निर्देशक है। इन्होंने १९९३ में सिनेमा जगत में कदम रखा था। २०१६ में मानव कौल को जय गंगाजल तथा वज़ीर जैसी फ़िल्मों में कार्य करने का मौका मिला। [2] इनके अलावा ये काय पो छे! फ़िल्म में भी कार्य कर चुके है। [3][4][5][6][7][8]

इसके साथ में इनकी 5 किताबें भी प्रकाशित हो चुकी हैं जिसमे 2 कहानी संग्रह हैं, 1 ना कहानी ना कविता है, एक यात्रा व्रतांत है और एक अंग्रेजी रूपांतरण है इन्हीं की किताब ठीक तुम्हारे पीछे का।

प्रकाशित किताबें[संपादित करें]

  1. ठीक तुम्हारे पीछे - 2017 (कहानी संग्रह)
  2. प्रेम कबूतर - 2018 (कहानी संग्रह)
  3. तुम्हारे बारे में - 2018 (ना कहानी ना कविता)
  4. A night in the hills - 2019 (कहानी संग्रह, ठीक तुम्हारे पीछे का अंग्रेजी रूपांतरण)
  5. बहुत दूर कितना दूर होता है (यात्रा व्रतांत)


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Anupama Raju. "Moments of spontaneity". The Hindu. मूल से 9 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि १९ मार्च २०१६.
  2. Aishwarya Gupta (१९ मार्च २०१६). "Hindi theatre is not dying". Tehelka. मूल से 2 अगस्त 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मार्च 2016.
  3. Vikram Phukan. "The nature of applause". Stage Impressions. मूल से 20 जून 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मार्च 2016.
  4. Deepa Gahlot. "Accidental playwright". Stage Impressions. मूल से 8 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मार्च 2016.
  5. Deepa Punjani. "Reviews". Mumbai Theatre Guide. मूल से 27 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मार्च 2016.
  6. "Whizzing past on the yellow scooter". Daily News and Analysis. 25 November 2008. मूल से 24 सितंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मार्च 2016.
  7. "Grains of reality". Deccan Herald. 14 February 2012. मूल से 4 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मार्च 2016.
  8. "Five Grains of Sugar: Manav Kaul". Pratilipi. १९ मार्च २०१६. मूल से 8 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मार्च 2016.

9. Daksh Sharma "बाल्टी - मानव कौल".