मानव अधिवासन हेतु संयुक्त राष्ट्र केन्द्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मानव अधिवासन हेतु संयुक्त राष्ट्र केन्द्र
Emblem of the United Nations.svg
संक्षेपाक्षर यूएन-हैबीटेट
स्थापना 1978; 41 वर्ष पहले (1978)
प्रकार कार्यक्रम[1]
वैधानिक स्थिति सक्रिय
मुख्यालय नैरोबी
Flag of Kenya.svg केन्या
प्रमुख
मैमुनाह मोहम्मद शरीफ
Flag of Malaysia.svg मलेशिया[2]
पैतृक संगठन
संयुक्त राष्ट्र
जालस्थल http://www.unhabitat.org

मानव अधिवासन हेतु संयुक्त राष्ट्र केंद्र; United Nations Centre for Human Settlements–(UNCHS) or Habitat: इसकी स्थापना 1978 में की गयी थी। 1976 में कनाडा के बैंकूवर में मानव अधिवास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (हैबीटेट- प्रथम) का आयोजन हुआ, जिसमे मानव अधिवासन क्रिया-कलापों के संगठन एवं सुदृढ़ीकरण हेतु संयुक्त राष्ट्र प्रणाली के अधीन एक विशिष्ट निकाय की अनुशंसा की गयी। इसी अनुशंसा के अंतर्गत महासभा द्वारा 1977 में आवास-निर्माण-नियोजन समिति की आर्थिक व सामाजिक परिषद के अधीन मानव अधिवास आयोग (सीएचएस) में बदल दिया गया। 1978 में इस आयोग की सेवाएं प्रदान करने तथा इसके प्रस्तावों को लागू करने के लिए यूएनसीएचएस की स्थापना की गयी इसका केन्द्र नैरौबी में स्थित है।

विकास[संपादित करें]

इसके क्रिया-कलापों में सरकारी अधिवासन व नियोजन कार्यक्रमों हेतु तकनीकी सहायता उपलब्ध कराना, विशेषज्ञों की बैठकें व कार्यशालाएं आयोजित करना तथा एक भूमंडलीय सूचनातंत्र के माध्यम से सूचनाओं का वितरण करना शामिल है। सीएचएस द्वारा इस केन्द्र को शासित किया जाता है। तकनीकी सहयोग, विकास व अनुसंधान, सूचना, दृश्य-श्रव्य एवं प्रपत्रीकरण तथा प्रशासन के लिए अलग-अलग प्रभाव मौजूद हैं। हैबीटेट एवं ह्युमेन सेटलमेंट फाउंडेशन वित्तीय स्कंध के रूप में कार्य करता है।

गतिविधियां तथा कार्य[संपादित करें]

सभी गतिविधियों का संचालन कार्यकारी निदेशक की देख-रेख में होता है। सीएचएस द्वारा वर्ष 1987 को बेघरों के लिए आश्रय हेतु अंतरराष्ट्रीय वर्ष के रूप में मनाया गया। यूएनसीएचएस अन्य संगठनों व एजेंसियों के साथ प्रासंगिक कार्यक्रमों व गतिविधियों के सम्बंध में सामंजस्य स्थापित करता है। 1988 में सीएचएस द्वारा आश्रय हेतु भूमंडलीय रणनीति को स्वीकृति दी गयी। जून 1996 में इस्ताबुल में हैबीटेट-द्दितीया का आयोजन हुआ, जिसे शहर शिखर सम्मेलन भी कहा जाता है। इस सम्मेलन में शहरी जीवन के पर्यावरण सुधार एवं प्रबंधन, सभी के लिए आश्रय की उपलब्धि तथा आवास अधिकारों पर अत्यधिक बल दिया गया। इस्ताबुल घोषणा ने राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय विकास नीतियों व योजनाओं में मानव अधिवास के महत्व को पुनर्रेखांकित किया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Funds, Programmes, Specialized Agencies and Others". www.un.org.
  2. https://unhabitat.org/our-secretariat/our-executive-director/