मानवता (सद्गुण)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मानवता ही नैतिकता का आधार है।सभी नैतिक मूल्य सत्य अहिंसा प्रेम सेवा शांति का मूल मानवता ही है।

छल कपाट द्वेष अपराध करना अनैतिक है इससे समाज मे अपराध का जन्म होता है।अपराध मुक्त समाज और समाज मे सुख शांति लाने के लिए समाज को नैतिक होना होगा ।

सभी महापुरुषो ने मानवता का पाठ पढ़ाया है।