माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्यप्रदेश

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्यप्रदेश
माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्यप्रदेश का प्रतीक चिन्ह
प्रतीक चिन्ह
संक्षेपाक्षर एमपीबीएसई
स्थापना 1965
प्रकार सरकारी शिक्षा बोर्ड स्कूल
मुख्यालय भोपाल, एमपी, भारत
स्थान
आधिकारिक भाषा
हिन्दी, अंग्रेजी और उर्दु
जालस्थल सरकारी वेबसाइट

माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्य प्रदेश (अंग्रेज़ी: Board of Secondary Education, Madhya Pradesh) (संक्षिप्त एमपीबीएसई) भारत के मध्य प्रदेश राज्य के स्कूली शिक्षा का एक मंडल है। [1] एमपीबीएसई, मध्य प्रदेश सरकार का एक संगठन है, जो राज्य की उच्च शिक्षा प्रणाली के नीति संबंधी, प्रशासनिक, संज्ञानात्मक और बौद्धिक दिशा को निर्धारित करने के लिए जिम्मेदार है। यह मध्य प्रदेश राज्य में माध्यमिक शिक्षा प्रणाली को विनियमित और निगरानी करता है। यह विभिन्न गतिविधियों को क्रियान्वित और नियंत्रित करता है, जिसमें पाठ्यक्रम, पाठ्यक्रमों का निर्धारण, परीक्षा आयोजित करना, महाविद्यालयों के साथ संबद्धता प्रदान करना आदि शामिल हैं। एमपीबीएसई अपने अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत सभी शैक्षणिक संस्थानों के लिए दिशा, समर्थन और नेतृत्व प्रदान करती है। [2][3] यह आदर्श स्कूल जैसे मॉडल हाई, टीटी नगर भी चलाता है।

स्थापना[संपादित करें]

मध्यप्रदेश विधानमंडल, भारत गणराज्य के सोलहवें वर्ष में, मध्य प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा और अन्य सहायक मामलों को विनियमित करने के लिए एक संगठन की स्थापना के लिए एक अधिनियम पारित किया। 1965 में मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा अधिनियम, 1965 के तहत यह स्वायत्त निकाय स्थापित किया गया।[4]

कार्यकलाप[संपादित करें]

  • स्कूलों को संबद्धता/मान्यता देना
  • माध्यमिक स्कूल और मध्यवर्ती स्तर पर पाठ्यक्रम और पाठ्य पुस्तकों को निर्धारित करना
  • माध्यमिक स्कूल और मध्यवर्ती परीक्षा आयोजित करना
  • अन्य मंदलों द्वारा आयोजित परीक्षाओं के लिए समानता प्रदान करना[5]

शैक्षिक[संपादित करें]

एमपीबीएसई अपने से संबद्ध विद्यालयों के कक्षा 9 से 12 तक के छात्रों के लिए, पाठ्यक्रम निर्धारित करता है, और एक वर्षिक परीक्षा आयोजित करा उनका मुल्याकंन भी अपनी देख-रेख में करवाता है।

अनिवार्य हिन्दी और अंग्रेजी भाषाओं के अलावा भाषा विषय के रूप में संस्कृत, उर्दू, मराठी, बंगाली, तेलुगू, तमिल, पंजाबी, सिंधी, मलयालम, फारसी, अरबी, फ्रेंच, रूसी, कन्नड़ या उड़िया को चुना जा सकता है।[6]

परीक्षा[संपादित करें]

यह तीन बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित करता है: आठवीं कक्षा के लिए मध्य विद्यालय परीक्षा, दसवीं कक्षा के लिए हाई स्कूल प्रमाणपत्र परीक्षा और बारहवीं कक्षा के लिए उच्च माध्यमिक (स्कूल) प्रमाण पत्र (एचएससी) परीक्षा, जो स्कूल छोड़ने वाली परीक्षा है।[7]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्य प्रदेश".
  2. "परिणाम प्रसंस्करण प्रणाली" (PDF). राष्ट्रीय सूचना केंद्र. अभिगमन तिथि 2010-10-02.
  3. "एनआईसी राज्य". राष्ट्रीय सूचना केंद्र, भारत सरकार. अभिगमन तिथि 2010-10-02.[मृत कड़ियाँ]
  4. "मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा अधिनियम, 1965". मध्यप्रदेश विधानमंडल. अभिगमन तिथि 2010-10-02.
  5. "बारहवीं का रिजल्ट 25 तक". पत्रिका. अभिगमन तिथि 2010-10-02.
  6. [http://indiatoday.intoday.in/education/story/mp-board-exam-2017/1/832508.html मध्य प्रदेश बोर्ड कक्षा 10 और 12 परीक्षा 2017: Datesheet mpbse.nic.in पर जारी किया]
  7. "हाई स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा, मध्य प्रदेश". राष्ट्रीय सूचना केंद्र. मूल से 2010-10-09 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2010-10-02.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]