माधोपुर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माधोपुर
—  क़स्बा  —
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य पंजाब
ज़िला गुरदासपुर
निकटतम नगर पठानकोट
संसदीय निर्वाचन क्षेत्र गुरदासपुर
जनसंख्या १५०००
साक्षरता ८०%%

निर्देशांक: 32°21′17″N 75°36′24″E / 32.3547°N 75.6067°E / 32.3547; 75.6067

माधोपुर, भारत के राज्य पंजाब के गुरदासपुर जिले की पठानकोट तहसील में स्थित एक छोटा पर अत्यंत सुन्दर क़स्बा है। यह पंजाब के अंतिम छोर पर स्थित है और यहां से रावी नदी को पार करके जम्मू एवं कश्मीर राज्य प्रारंभ हो जाता है। व्यापारिक, सामरिक और भौगोलिक रूप से इसका महत्व और भी ज्यादा हो जाता है, क्योंकि भारत को जम्मू और कश्मीर से जोड़ने वाला एकमात्र राष्ट्रीय राजमार्ग और भारतीय रेल यहीं से होकर गुज़रती है। इस कारण इसे पंजाब के प्रवेशद्वार के रूप से जाना जाता है। यह क्षेत्र पर्यटन की दृष्टि से एक अच्छा स्थान है। हिमालय की शिवालिक पहाड़ियो और रावी के किनारे किनारे बनी सड़क का नजारा अत्यंत ही मनमोहक है।

इतिहास[संपादित करें]

माधोपुर पहले पहाड़ी राज्यों के शासन के अधीन था। महाराजा रणजीत सिंह ने भी माधोपुर पर शासन किया है इसके परमाण महाराजा रणजीत सिंह के राज्यकाल का महल आज भी यहाँ से ५ किलोमीटर दूर शाहपुर कंडी में स्थित है। अंग्रेजो के काल के गिरिजाघर, परियों का बाग, लाल कोठी, ऊपरी बारी दोआब नहर, निचली बारी दोआब नहर और अन्य कई इमारतें आज भी यहाँ मौजूद है। माधोपुर से जम्मू कश्मीर में प्रवेश करने पर डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी को 11 मई 1953 को जम्मू और कश्मीर के शेख़ अब्‍दुल्‍ला ने हिरासत में ले लिया था। पंजाब सरकार ने उनकी स्मृति में एक मूर्ती यहाँ स्थापित की है। [1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]