माक्स बोर्न

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माक्स बोर्न

मैक्स बोर्न (German: [bɔɐ̯n]; 11 दिसम्बर 1882 – 5 जनवरी 1970) जर्मन भौतिक विज्ञानी और गणितज्ञ थे जो क्वांटम यांत्रिकी के विकास में सहायक रहे। उन्होंने ठोस अवस्था भौतिकी और प्रकाशिकी के क्षेत्र में भी योगदान दिया और १९२० एवं १९३० के दशक में विभिन्न भौतिक विज्ञानियों को प्रशिक्षित किया। बोर्न को "क्वांटम यांत्रिकी में मूलभूत शोध, मुख्यतः तरंग फलन के सांख्यिकीय अर्थरूपण" के लिए १९५४ में भौतिकी में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।[1][2][3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. बोर्न, एम॰; जोर्डन, पी॰ (1925). "Zur Quantenmechanik" [क्वांटम यांत्रिकी के लिए]. Zeitschrift für Physik. 34: 858–888. डीओआइ:10.1007/BF01328531. बिबकोड:1925ZPhy...34..858B.
  2. बोर्न, एम॰ (1926). "Zur Quantenmechanik der Stoßvorgänge" [क्वांटम यांत्रिकी कि क्षणिक घटनाओं के लिए]. Zeitschrift für Physik. 37 (12): 863–867. डीओआइ:10.1007/BF01397477. बिबकोड:1926ZPhy...37..863B.
  3. ओ'कॉनर, जॉन; रॉबर्टसन, एडमण्ड, "माक्स बोर्न", मैक्ट्यूटर हिस्ट्री ऑफ़ मैथेमैटिक्स, युनिवर्सिटी ऑफ़ सैंट एण्ड्रूज़.