माइक्रोएटीएम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

माइक्रो एटीएम एक छोटी मशीन है जो कार्ड स्वाइपिंग मशीन की तरह दिखती है लेकिन मूलभूत बैंकिंग सुविधा प्रदान करने में सक्षम है। इस तरह के एटीएम बहुत फायदेमंद हैं, जो लोग ऐसे लोगों को सुविधा प्रदान करते हैं जहां सामान्य एटीएम स्थापित नहीं किए जा सकते हैं। माइक्रो एटीएम एक पोर्टेबल डिवाइस है और आसानी से एक हाथ में किया जा सकता है। बैंक के अधिकारी दूरदराज के क्षेत्रों में जा सकते हैं और इस मशीन को उस क्षेत्र में ले जा सकते हैं और वहां लोगों को बुनियादी बैंकिंग सुविधाएं प्रदान कर सकते हैं।

माइक्रो एटीएम के माध्यम से सेवाएं प्रदान की जाती हैं

  1. बैंक खाते खोलना एटीएम कार्ड का उपयोग कर लेनदेन।
  2. नकदी जमा या निकासी।
  3. मिनी स्टेटमेंट बैंक बैलेंस पूछताछ आदि।
  4. बायोमेट्रिक विवरण कैप्चरिंग।

माइक्रो एटीएम कार्ड स्वाइप मशीन हैं जिनके माध्यम से बैंक अपने कोर बैंकिंग सिस्टम से दूरस्थ रूप से जुड़ सकते हैं। यह मशीन इसके साथ संलग्न एक फिंगरप्रिंट स्कैनर के साथ आता है। माइक्रो एटीएम पीओएस टर्मिनलों के समान हैं और एक मोबाइल बैंकिंग व्यवस्था सह-मोबाइल एटीएम उपकरण हैं।

यह अधिक सुविधाजनक कैसे है?[संपादित करें]

बैंकरों के अनुसार, एक माइक्रो एटीएम की तैनाती की लागत एक साधारण एटीएम से कम है एटीएम को एक दिन में कम से कम 80-100 लेनदेन की ज़रूरत होती है क्योंकि उन्हें कई लाख की लागत होती है। एक माइक्रो एटीएम की कीमत 20,000 रुपये से कम है| माइक्रो एटीएम में जीएसएम के माध्यम से कनेक्टिविटी है, इसलिए यह गांव से गांव तक जा सकता है। निम्न क्षेत्रों की संख्या, लेन-देन की कम मात्रा, लेनदेन के कम मूल्य और एटीएम स्थापित करने की उच्च लागत के कारण ग्रामीण इलाकों में एटीएम स्थापित करना बैंकों के लिए अबाधित नहीं है। माइक्रो एटीएम बैंकों के लिए एक बंद समाधान है, जो बैंकों को सुरक्षित तरीके से बैंकिंग बैंकों को एटीएम लाने में मदद करता है। हमारे द्वारा डिज़ाइन किए गए माइक्रो एटीएम लागत प्रभावी हैं, इनबाल्ट बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के साथ स्थानीय भाषा के प्रदर्शन और आवाज को समर्थन देते हैं जो बैंकों को वास्तविक शब्दों में कुल वित्तीय समावेशन प्राप्त करने में मदद करता है। माइक्रो एटीएम पॉइंट ऑफ सेल (पीओएस) उपकरण हैं जो कम से कम बिजली के साथ काम करते हैं, जीपीआरएस के माध्यम से केंद्रीय बैंकिंग सर्वर से कनेक्ट होते हैं, जिससे परिचालन लागत काफी कम हो जाती हैं। हमारे माइक्रो एटीएम समाधान में बिना बैंकों के ग्रामीण लोगों को आसानी से सूक्ष्म बैंकिंग सेवाओं का उपयोग बहुत प्रभावी ढंग से किया जा सकता है।

माइक्रो एटीएम की मुख्य विशेषताएं इस प्रकार हैं:[संपादित करें]

  1. संचार के लिए संपर्क / संपर्क रहित स्मार्ट कार्ड, बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण, थर्मल प्रिंटर और जीपीआरएस मॉड्यूल का समर्थन करता है
  2. कार्ड निजीकरण, कार्ड जारी करने, कुंजी प्रबंधन और कार्ड जीवन चक्र प्रबंधन सहित कॉन्फ़िगर योग्य स्मार्ट कार्ड प्रबंधन प्रणाली
  3. कई बैंकिंग उत्पादों और तीसरे पक्ष के वित्तीय उत्पादों का समर्थन करता है
  4. ऑफ़लाइन और ऑनलाइन लेनदेन दोनों का समर्थन करता है
  5. बायोमेट्रिक नामांकन और प्रमाणीकरण कार्य का समर्थन करता है
  6. 10 घंटे बैटरी बैकअप

माइक्रो एटीएम का उपयोग :[संपादित करें]

अपने ग्राहकों को और आपके इलाके में नकद निकासी सुविधा की पेशकश करके अपनी दुकान को मिनी एटीएम केन्द्र में बदल दें। एक अनूठी सेवा जो आपकी दुकान को बाकी हिस्सों से बाहर निकलेगी, फुटफॉल्स बढ़ाएं और आपको कमीशन के जरिए एक अतिरिक्त राजस्व दे। ग्राहक अपने किसी भी डेबिट कार्ड (भारत में जारी किए गए) का भुगतान एक एमपीओएस कार्ड रीडर का उपयोग करके कर सकते हैं। अब ग्राहक को एटीएम की खोज करने, लंबी दूरी की यात्रा करने और पैसे निकालने के लिए कतार में एटीएम के बाहर इंतजार करना पड़ता है। सभी लेनदेन प्रमाणीकरण के कई स्तरों के साथ 100% सुरक्षित हैं और आरबीआई द्वारा अनुमोदित हैं। माइक्रो एटीएम बैंक के मुख्य सिस्‍टम से जुड़ा होता है ताकि आप से संबंधित सूचनाएं वह प्राप्‍त कर सके। ऐसे डिवाइस पोर्टेबल होते हैं और मोबाइल डाटा के जरिए बैंक के सर्वर से जुड़ते हैं। कुछ माइक्रो एटीएम तो आधार कार्ड के जरिए खाता खोलने तक की सुविधा उपलब्‍ध कराते हैं।

माइक्रो एटीएम कैसे कार्य करता है:[संपादित करें]

बैंक एक माइक्रो एटीएम चलाने के लिए एजेंटों की नियुक्ति करते हैं। आप वित्तीय और गैर वित्तीय लेनदेन करने के लिए एजेंट के पास जा सकते हैं। माइक्रो एटीएम मशीन पर सत्यापन के लिए अपनी आधार संख्या देकर और अपनी उंगली को स्वाइप करके आपको अपने आधार उंगली सत्यापन प्रक्रिया के माध्यम से जाना होगा। सत्यापन होने के बाद, आप एजेंट के माध्यम से नकद वापस ले सकते हैं या जमा कर सकते हैं। या फिर पैसे निकालने के लिए डेबिट कार्ड लेनदेन भी करें, और एजेंट से उसे जमा करें। माइक्रो एटम एक सामान्य एटीएम की तरह नकदी या गलप नहीं करता है। नकद पैसे निकालने के अलावा आप माइक्रो एटीएम के जरिए अपना अकाउंट बैलेंस चेक कर सकते हैं। नकद जमा करवाने के साथ-साथ आप दूसरे बैंकों में फंड ट्रांसफर भी कर सकते हैं। माइक्रो एटीएम की एक बड़ी खासियत यह है कि आप किसी भी बैंक अकाउंट से अपने पैसों की निकासी कर सकते हैं। हालांकि, मौजूदा नकदी संकट के दौर में ज्‍यादातर बैंक सिर्फ अपने ग्राहकों को ही यह सुविधा दे रहे हैं। आप अपना कार्ड स्‍वाइप करने और पिन नंबर डालने या आधार से जुड़ा बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन करते हैं।

माइक्रोएटीएम डिवाइस डिजाइन और ढांचा, पॉइंट-ऑफ-सर्विस (पीओएस) टर्मिनलों पर डेबिट / क्रेडिट कार्ड के कार्यप्रणाली से प्रभावित है। माइक्रोएटीएम बैंकों द्वारा तैनात किया गया है या तो सीधे, या सेवा प्रदाताओं के माध्यम से यह उन व्यक्तियों द्वारा संचालित होता है जो हैं व्यावसायिक संवाददाता खुद (व्यक्तिगत बीसी), या एक कॉर्पोरेट बैंकिंग संवादकर्ता के उप-एजेंट हैं।