माइकल सिपसर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माइकल सिपसर
जन्म माइकल फ्रेडेरिक सिपसर
17 सितम्बर 1954 (1954-09-17) (आयु 66)
ब्रुकलिन, न्यू यॉर्क
राष्ट्रीयता अमेरिकन
क्षेत्र
संस्थान मैसाचुसेट्स प्रौद्योगिकी संस्थान
शिक्षा
डॉक्टरी सलाहकार मानुएल ब्लम
डॉक्टरी शिष्य
उल्लेखनीय सम्मान

माइकल फ्रेड्रिक सिपसर (en) (जन्म 17 सितंबर, 1954) एक अमेरिकी सैद्धांतिक कंप्यूटर वैज्ञानिक हैं जिन्होंने कम्प्यूटेशनल जटिलता सिद्धांत में शुरुआती योगदान दिया है। वह मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में अभिकलनात्मक गणित के प्रोफेसर और विज्ञान के डीन हैं।

जीवनी[संपादित करें]

सिपसर का जन्म और परवरिश ब्रुकलिन, न्यूयॉर्क में हुआ था और जब वह 12 साल के थे, तब ओसवेगो, न्यू यॉर्क में रहने लगे। उन्होंने 1974 में कॉर्नेल विश्वविद्यालय से गणित में बीए और 1980 में कैलिफ़ोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कली से इंजीनियरिंग में मानुएल ब्लम के मार्गदर्शन से पीएचडी की उपाधि प्राप्त की।[1][2]

उन्होंने 1979 में रिसर्च साइंस एसोसिएट के रूप में कंप्यूटर साइंस के लिए एमआईटी की प्रयोगशाला में दाखिला लिया और वह उसके बाद सैन जोसे में आईबीएम रिसर्च में एक रिसर्च स्टाफ सदस्य रहे। 1980 में, वह एमआईटी संकाय में शामिल हुए। उन्होंने 1985-1986 के शैक्षणिक वर्ष को कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कली के संकाय पर बिताया और फिर एमआईटी में लौट गए। 2004 से 2014 तक, उन्होंने एमआईटी गणित विभाग के प्रमुख के रूप में कार्य किया। उन्हें 2014 में एमआईटी स्कूल ऑफ साइंस का डीन नियुक्त किया गया था।[3] वह अमेरिकन एकेडमी ऑफ आर्ट्स एंड साइंसेज के एक साथी हैं।[4] 2015 में उन्हें फेलो ऑफ़ अमेरिकी गणितीय सोसाइटी के रूप में चुना गया था।[5] उन्हें 2017 में एसीएम फेलो के रूप में भी चुना गया था।[6]

वैज्ञानिक कैरियर[संपादित करें]

सिपसर अल्गोरिथ्म्स और कम्प्यूटेशनल जटिलता सिद्धांत, विशेष रूप से एफ्फिसिएंट एरर करेक्टिंग कोड्स, इंटरैक्टिव प्रूफ सिस्टम्स, रंडोमनस्स, क्वांटम कम्प्यूटेशन और समस्याओं की कम्प्यूटेशनल जटिलता सिद्ध करने में माहिर हैं।


उन्होंने मेर्रिक फुरसत एवं जेम्स बी सक्से के साथ सर्किट कम्प्लेक्सिटी पे सुपर पोलीनोमिअल लोअर बॉन्ड्स सिद्ध करने के लिए प्रोबबिलिस्टिक रेस्ट्रिक्शन का तरीका निकला था। उनके परिणाम को बाद में एंड्रयू याओ और जोहान हास्टैड ने सुधारा था।[7]


क्वांटम कम्प्यूटेशन के छेत्र में, एडवर्ड फरही, जेफरी गोल्डस्टोन और सामुएल गुटमैंन के साथ उन्होंने अड़िआबाटिक अल्गोरिथ्म्स को जन्मा था।[8]


सिपसर लंबे समय से P बनाम NP समस्या में रुचि रखते है। 1975 में, उन्होंने लियोनार्ड एडलमैन के साथ सोने का एक औंस व्यर्थ कर दिया कि 20 वीं शताब्दी के अंत तक एक प्रमाण के साथ समस्या हल हो जाएगी कि P ≠ NP। सिपसर ने 2000 में एडलमैन को एक अमेरिकी गोल्ड ईगल सिक्का भेजा क्योंकि समस्या अभी तक हल नहीं हुई है।[9]

उल्लेखनीय किताबें[संपादित करें]

सिपसर इंट्रोडक्शन टू थ्योरी ऑफ़ कम्प्यूटेशन के लेखक हैं[10], जो की सैद्धांतिक कंप्यूटर विज्ञान के लिए एक पाठ्यपुस्तक है।

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

सिपसर कैम्ब्रिज, मैसाचुसेट्स में अपनी पत्नी इना के साथ रहते हैं और उनके दो बच्चे हैं: एक बेटी, रेचल, जिसने न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त की, और एक छोटा बेटा, आरोन, जो एमआईटी में स्नातक है।[1]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Trafton, Anne, "Michael Sipser named dean of the School of Science: Sipser has served as interim dean since Marc Kastner’s departure", MIT News Office, June 5, 2014
  2. मैथमेटिक्स जिनियालॉजी प्रोजेक्ट (गणितीय वंशावली परियोजना) पर माइकल सिपसर
  3. MIT Mathematics | People Directory Archived 2008-12-18 at the वेबैक मशीन.
  4. "Membership". American Academy of Arts and Sciences. अभिगमन तिथि 23 September 2014.
  5. 2016 Class of the Fellows of the AMS, American Mathematical Society, अभिगमन तिथि 2015-11-16.
  6. ACM Recognizes 2017 Fellows for Making Transformative Contributions and Advancing Technology in the Digital Age, Association for Computing Machinery, December 11, 2017, अभिगमन तिथि 2017-11-13
  7. Furst, Merrick; Saxe, James B.; Sipser, Michael (1984). "Parity, circuits, and the polynomial-time hierarchy". Mathematical Systems Theory. 17 (1): 13–27. MR 0738749. डीओआइ:10.1007/BF01744431.
  8. Farhi, Edward; Goldstone, Jeffrey; Gutmann, Sam; Sipser, Michael (2000-01-28). "Quantum Computation by Adiabatic Evolution". arXiv:quant-ph/0001106.
  9. Pavlus, John (2012-01-01). "Machines of the Infinite". Scientific American. 307 (3): 66–71. PMID 22928263. डीओआइ:10.1038/scientificamerican0912-66. बिबकोड:2012SciAm.307c..66P.
  10. Sipser, Michael (2012-06-27). Introduction to the Theory of Computation (3 संस्करण). Cengage Learning. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1133187790.

बाहरी लिंक्स[संपादित करें]