महाभूत

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

महाभूत वह तत्त्व है जिससे यथार्थ (reality) बना हुआ है। पांच महाभूत हैं:

सत्वगुण, रजगुण, कर्म, काल, स्वभाव

जब ये पांच महाभूतों ने तामस अहंकार में विकार उत्पन्न किया तो शब्द, फिर शब्द में इन्ही पांच महाभूतों ने विकार उत्पन्न करके आकाश, आकाश में पांच महाभूतों ने विकार उत्पन्न करके वायु, वायु में पांच महाभूतों ने विकार उत्पन्न करके तेज, तेज में पांच महाभूतों ने विकार उत्पन्न करके जल और क्रमशः जल में पांच महाभूतों ने विकार उत्पन्न करके पृथिवी या मिट्टी इन तत्वों का निर्माण किया। इन्ही पांच तत्वों को आकाश, वायु, तेज, जल, पृथिवी या पञ्च तत्व कहते हैं। पांच तत्व हैं:

पृथिवी, जल, अग्नि, वायु, आकाश

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]