महमूद गाज़ान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
महमूद गाज़ान
GhazanConversionToIslam.JPG
व्यवसाय शासक

महमूद ग़ाज़ान, ग़ज़ान ख़ान (5 नवंबर 1271 - 11 मई 1304) (अंग्रेज़ी:Mahmud Ghazan) मंगोल साम्राज्य के इल्खानेट डिवीजन के सातवें शासक थे। आर्घन के पुत्र, अबाका ख़ान के पोते थे। इलख़ानी साम्राज्य शासकों में सबसे प्रमुख माने जाते हैं।

ग़ज़ान और उसका भाई ओलज़ैतु ईसाई के रूप में बड़े हुए। उन्होंने एक चीनी भिक्षु के साथ बौद्ध धर्म का अध्ययन किया। इसके अलावा, भिक्षु ने उन्हें मंगोलियाई भाषा और उइघुर लिपि सिखाई।

ग़ज़ान के पूर्व शत्रु नौरूज़ ने उसकी सहायता की। नौरूज़ पहले ही इस्लाम धर्म अपना चुका था। ग़ज़ान ने युद्ध में सहायता की शर्त के रूप में 16 जून 1295 को इस्लाम धर्म अपना लिया।[1] [2]

मृत्यु[संपादित करें]

10 मई, 1304 को ग़ज़ान की मृत्यु हो गई। मृत्यु के समय उनका कोई पुत्र नहीं था। उन्होंने अपने भाई ओल्जैतु को अपना उत्तराधिकारी नामित किया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Maḥmūd Ghāzān https://www.britannica.com/biography/Mahmud-Ghazan
  2. Ghazan, Islam and Mongol Tradition: A View from the Mamlūk sultanate https://www.jstor.org/stable/619387

इन्हें भी देखें[संपादित करें]