मलिका पुखराज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
ग़ज़ल गायिका मलिका पुखराज की १९२० में ली गई तस्वीर

सुप्रसिद्ध ग़ज़ल गायिका मलिका पुखराज (उर्दू: ملكہ پکھراج) का जन्म जम्मू से 12 किमी दूर अखनूर नदी के किनारे बसे गांव मीरपुर में हुआ। नौ वर्ष की आयु में ही वह जम्मू के राजा हरि सिंह के दरबार में शामिल हो गईं।[1] संगीत शिक्षा उन्होंने उस्ताद अल्लाह बख़्श (बड़े गुलाम अली ख़ान के पिता) से ली। उनका विवाह लाहौर में सईद शब्बीर हुसैन शाह से हुआ और वक्त के साथ चार बेटों और दो बेटियों की मां बनी। उनकी एक बेटी ताहिरा सईद भी एक सुप्रसिद्ध गायिका के रूप में अपनी पहचान बनाई। 'अभी तो मै जवान हूं' के माध्यम से लोगों की जहन में जवान रहने वाली मलिका पुखराज का 2फ़रवरी २००४ को पाकिस्तान के लाहौर शहर में निधन हो गया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "हिन्दू". मूल से 5 नवंबर 2008 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 जुलाई 2009.