मज़हब (फ़िक़्ह)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
इस्लाम के सात प्रमुख 'विधि-सम्प्रदाय'

मज़हब का अर्थ पंथ या सम्प्रदाय से है।यह मुस्लिम पंथ को दर्शाता है। (अरबी: مذهب‎ मदहब, IPA: [ˈmæðhæb], "सिद्धांत"; तुर्की: mezhep; उर्दू: مذہب मज़हब) से तात्पर्य इस्लाम के उन सम्प्रदायों से हैं जो इस्लामी विधिशास्त्र (फ़िक़्ह) के आधार पर अलग-अलग है। इस्लाम के उद्भव के प्रथम 150 वर्षों में अनेकों मज़हब उत्पन्न हो चुके थे। उसके बाद के वर्षों में इनकी संख्या में और वृद्धि हुई, कुछ का प्रसार हुआ, कुछ कई भागों में टूट गये और कुछ दूसरे मज़हबों में मिल गये या अप्रचलित हो गये।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]