मकालू बरुण राष्ट्रीय उद्यान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मकालू बरुन राष्ट्रीय उद्यान
आईयूसीएन श्रेणी द्वितीय (II) (राष्ट्रीय उद्यान)
Barun Valley - Nghe.jpg
मकालू बरुन राष्ट्रीय उद्यान के लैंडस्केप
मकालू बरुन राष्ट्रीय उद्यान की अवस्थिति दिखाता मानचित्र
मकालू बरुन राष्ट्रीय उद्यान की अवस्थिति दिखाता मानचित्र
अवस्थितिनेपाल, लिम्बुवान
निर्देशांक27°45′25″N 87°06′49″E / 27.75694°N 87.11361°E / 27.75694; 87.11361निर्देशांक: 27°45′25″N 87°06′49″E / 27.75694°N 87.11361°E / 27.75694; 87.11361
क्षेत्रफल1,500 कि॰मी2 (1.6×1010 वर्ग फुट)
स्थापित1992
शासी निकायराष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव संरक्षण विभाग

मकालू बरुन राष्ट्रीय उद्यान नेपाल के एक राष्ट्रीय उद्यान है। यह दुनिया का एकमात्र संरक्षित क्षेत्र है जहां 8,000 मीटर (26,000 फीट) से अधिक ऊंचाई पर उष्णकटिबंधीय जंगल के साथ-साथ बर्फ से ढकी चोटियों की ऊंचाई हासिल है। यह उद्यान 1992 में सागरमाथा राष्ट्रीय उद्यान के पूर्वी विस्तार के रूप में स्थापित किया गया था। यह सोलुखुम्बु और सांखुवासभा जिलों में 1,500 कि॰मी2 (580 वर्ग मील) के क्षेत्र को कवर करता है, और 830 कि॰मी2 (320 वर्ग मील) के क्षेत्र के साथ दक्षिण और दक्षिण-पूर्व में एक बफरजोन से घिरा हुआ है।[1]

मौसम[संपादित करें]

उद्यान हिमालय के पूर्वी जलवायु क्षेत्र में स्थित है, जहां मानसून जून में शुरू होता है और सितंबर के अंत में बंद हो जाता है और इन महीनों के दौरान 4,000 मिमी (160 इंच) की वार्षिक वर्षा का लगभग 70% गिरता है। पूरे क्षेत्र में ऊंचाई में अत्यधिक अंतर के कारण तापमान में बहुत अंतर होता है।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Bhuju, U. R., Shakya, P. R., Basnet, T. B., Shrestha, S. (2007). Nepal Biodiversity Resource Book. Protected Areas, Ramsar Sites, and World Heritage Sites (PDF). Kathmandu: International Centre for Integrated Mountain Development, Ministry of Environment, Science and Technology, in cooperation with United Nations Environment Programme, Regional Office for Asia and the Pacific. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-92-9115-033-5.
  2. Zomer R. J., Ustin S. L. and Carpenter C. C. (2001). Land Cover Change Along Tropical and Subtropical Riparian Corridors Within the Makalu Barun National Park and Conservation Area, Nepal. Mountain Research and Development 21: 175–183.