भारत में 2020 कोरोनावायरस महामारी की समयरेखा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भारत में 2020 के कोरोनावायरस महामारी की समयरेखा निम्नलिखित है।

भारत में फैल रही महामारी का घटनाक्रम (30 जनवरी 2020 से)

जनवरी[संपादित करें]

  • 30 जनवरी को, वुहान विश्वविद्यालय से केरल के तृश्शूर लौटे एक छात्र में कोरोनावायरस की देश के पहले मामले की पुष्टि की गई थी।[1]

फरवरी[संपादित करें]

  • 3 फरवरी को, केरल के कासरगोड जिले में तीसरा मामला सामने आया, जो चीन के वुहान से लौटा था।[2]

मार्च[संपादित करें]

1 से 2 मार्च[संपादित करें]

केरल के एक सरकारी अस्पताल में कोरोनोवायरस संक्रमण के रोगी की देखभाल के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण पहने स्वास्थ्य कर्मचारी।
  • इसके बाद 2 मार्च को, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दो और मामलों की पुष्टि की: जिसमें एक दिल्ली के 45 वर्षीय,[3] जो इटली से वापस भारत लौटा और दूसरा हैदराबाद में एक 24 वर्षीय इंजीनियर है जो संयुक्त अरब अमीरात से लौटा।[4] इसके अलावा, जयपुर में एक इतालवी नागरिक में पहले तो नहिक (नेगेटिव) परीक्षण पाया गया था लेकिन बाद में सहिक (पॉज़िटिव) मामले की पुष्टि हुई।
  • आगरा में एक ही परिवार के 6 सदस्यों में सहिक (पॉज़िटिव) मामले की पुष्टि की गयी[5]

3 से 4 मार्च[संपादित करें]

  • जबकि 15 राजस्थान में मामले सामने आए है जिसमें 14 इतालवी और एक राजस्थान से ही है। लेकिन 3 मार्च को एक इतावली व्यक्ति की पत्नी में भी मामला सहिक (पॉज़िटिव) पाया गया और जांच के लिए सेंपल पुणे भेजा गया।[6]
  • दक्षिण दिल्ली के एक होटल में रहने वाले कुल 24 लोगों (21 इतालवी सहित 3 भारतीयों) को परीक्षण के लिए आईटीबी कैंप में भेज दिया गया।[7]
  • 4 मार्च को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली के अनुसार उनमें से 16 (15 इतालवी और 1 भारतीय) में कोरोनावायरस के सहिक (पॉज़िटिव) मामले पाये गए।[8] गुड़गांव में एक पेटीएम कर्मचारी, जो इटली में छुट्टी से लौटा था, में सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाया गया और सहिक (पॉज़िटिव) मामलों की संख्या 29 पहुँच गयी।[9]

5 से 6 मार्च[संपादित करें]

  • 5 मार्च को, गाजियाबाद में एक मध्यम आयु वर्ग के व्यक्ति में सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाया गया जिसने ईरान की यात्रा की थी।[10] सरकार ने संदिग्ध मामलों की संख्या को बढ़ते देख ३१ मार्च तक प्राथमिक विद्यालयों में छुट्टी कर दी है।[11]

7 से 8 मार्च[संपादित करें]

  • 7 मार्च को जम्मू[13] के रहने वाले एक और अमृतसर के रहने वाले दो लोगों में कोरोना वायरस पाया गया,[14] जिन्होंने इटली का सफर किया था। हालांकि, पुणे से पुष्टिकरण अभी बाकी है।
  • 8 मार्च को केरल के पतनमतिट्टा में एक ही परिवार के पांच लोगों में वायरस पाया गया। उनमें से तीन ने इटली की यात्रा की थी जबकि अन्य दो संक्रमित लोग उनके संपर्क में आये।[16] जबकि तमिलनाडु में एक और सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाया गया।[17]

9 से 10 मार्च[संपादित करें]

  • 9 मार्च को एर्नाकुलम में एक तीन वर्षीय, जो दो दिन पहले अपने माता-पिता के साथ इटली से लौटी थीं में वायरस[18] पाया गया और एहतियात के तौर पर बच्चे के माता-पिता को भी जांच होगी। जम्मू-कश्मीर में एक ६३ वर्षीय महिला, जो ईरान लौटी उसमें भी वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि की गई है।[18] वहीं आगरा और दिल्ली में एक-एक व्यक्ति में कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई है। जबकि होशियारपुर में एक में सहिक (पॉज़िटिव) वायरस पाया गया। इसके अलावा बंगलौर के एक व्यक्ति में मामला पाया गया जिसने संयुक्त राज्य अमेरिका की यात्रा की और महाराष्ट्र में पहला सहिक (पॉज़िटिव) मामला पुणे[19] में पाया गया जिसमें पति-पत्नी में इस वायरस होने की पुष्टि हुई है, दोनों दुबई से लौटे थे।
  • पुणे में तीन और लोग, जो संक्रमित पति-पत्नी के संपर्क में आए थे,[22] में सहिक (पॉज़िटिव) वायरस पाया गया। जबकि एर्नाकुलम में संक्रमित तीन वर्षीय बच्चे के दोनों माता-पिता में भी कोरोनवायरस सहिक (पॉज़िटिव) पाया गया।[23]

11 से 12 मार्च[संपादित करें]

  • 11 मार्च को, जयपुर में ८५ साल के एक व्यक्ति में सहिक (पॉज़िटिव) कोरोनावायरस की पुष्टि हुई जिसने दुबई की यात्रा की थी।[24] मुंबई में दो और लोगों में कोरोनावायरस पाया गया जो पुणे के रोगियों के संपर्क में आये।[25] महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए पुष्टि की कि राज्य में कुल ११ लोगों में कोरोनावायरस पाया गया है जिसमें ८ पुणे के और २ मुंबई के लोग शामिल हैं। जबकि बाद में, अमेरिका से सेवानिवृत्त हुए ४५ वर्षीय नागपुर के एक व्यक्ति में यह वायरस सहिक (पॉज़िटिव) पाया गया।[26]
  • 12 मार्च को, उत्तर प्रदेश के नोएडा में एक पर्यटक गाइड, जो इतालवी पर्यटकों के समूह के संपर्क में आया था,[27] में सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाया गया। बाद में लखनऊ में एक कनाडाई महिला में केस की पुष्टि हुई।[28] १२ मार्च को भारत में कोरोना वायरस से मौत की पुष्टि हुई जो कर्नाटक के कालाबुर्गी के ७६ वर्षीय बुजुर्ग व्यक्ति था। मृत्यु १० मार्च को हुई और बाद में कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई थी। जबकि पश्चिम दिल्ली में एक ६९ वर्षीय बुजुर्ग महिला में सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाया गया और उसकी भी मौत हुई जिन्होंने जापान, इटली और जेनेवा की यात्रा की थी। वहीं आंध्र प्रदेश में पहला सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाया गया जो नेल्लोर का रहने वाला है।

13 से 14 मार्च[संपादित करें]

  • 13 मार्च को, देश में दूसरी मृत्यु दर्ज की गई। दिल्ली की 69 वर्षीय महिला में एक दिन पहले सहिक (पॉज़िटिव) वायरस पाया गया था।[29] वहीं बैंगलोर में गूगल के एक कर्मचारी, में सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाये जाने की पुष्टि हुई जो ग्रीस की यात्रा करके वापस लौटा था।[30] बाद में, केरल के दो और लोग जो दुबई और कतर से लौटे थे, में सहिक (पॉज़िटिव) मामला पाया गया।[31] महाराष्ट्र में पुणे में १ और नागपुर में २ और लोगों में कोरोना वायरस सहिक (पॉज़िटिव) पाया गया।[32] जबकि नोएडा की एक निजी कंपनी के एक कर्मचारी में सहिक (पॉज़िटिव) केस पाया गया जिसने इटली और स्विट्जरलैंड की यात्रा की थी।[33] वहीं एक भारतीय नागरिक को इटली से निकाला गया और गुरुग्राम के पास एक सेना की सुविधा में छोड़ दिया गया जिसका टेस्ट किया गया और उसमें सहिक (पॉज़िटिव) वायरस होने की पुष्टि हुई।[34] जबकि उत्तर प्रदेश के ५ और राजस्थान और दिल्ली के एक-एक व्यक्ति को इस बीमारी से सफलतम इलाज के बाद विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दी गयी।[35]

15 से 16 मार्च[संपादित करें]

  • 15 मार्च को, एक 59 वर्षीय महिला जो औरंगाबाद की रहने वाली है और उसने रूस की यात्रा की, में सहिक (पॉज़िटिव) वाइयस पाया गया।[41] उत्तर प्रदेश में लखनऊ में एक और मामला सामने आया।[42] ब्रिटेन के एक डॉक्टर जो विदेश से लौटे और केरल में उनमें सहिक (पॉज़िटिव) वायरस पाने की पुष्टि हुई।[43] तेलंगाना में एक और व्यक्ति में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई जिसने नीदरलैंड की यात्रा की थी।[44] वन अनुसंधान संस्थान के एक प्रशिक्षु अधिकारी जो स्पेन, फिनलैंड और रूस के अध्ययन दौरे से लौटा था उसमें भी इस वायरस होने का मामला आया है जो उत्तराखंड का रहने वाला है। यह उत्तराखंड का पहला मामला है।[45] जबकि कर्नाटक के कालाबुर्गी में एक और मामला पाया गया।[46] वहीं इतालवी दंपति और दुबई से लौटे ८५ वर्षीय जयपुर के मूल निवासी का कोरोना वायरस का सफलतापूर्ण इलाज हुआ।[47] पुणे के एक ३१ वर्षीय व्यक्ति में भी कोरोना वायरस पाया गया जिसने दुबई और जापान की यात्रा की।[48]

17 से 18 मार्च[संपादित करें]

  • 17 मार्च को, मुंबई में 64 वर्षीय व्यक्ति की मृत्यु हुई। फ्रांस से लौटे दो लोगों को नोएडा में सहिक (पॉज़िटिव) कोरोना वायरस पाया गया। जबकि लद्दाख में तीन और मामले सामने आए - दो लेह से और एक कारगिल जिले में। जबकि 3 साल की एक लड़की और उसके माता-पिता दोनों को मुंबई में सहिक (पॉज़िटिव) कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई। पुडुचेरी में, एक 68 वर्षीय महिला जो संयुक्त अरब अमीरात से लौटी थीं में मामला पाया गया। यह केंद्रशासित प्रदेश में पहला मामला था। कर्नाटक के कालाबुरगी में, एक 63 वर्षीय चिकित्सक, जिसने देश में वायरस के पहले शिकार का इलाज किया था, में सहिक (पॉज़िटिव) कोरोना वायरस पाया गया। जबकि नई दिल्ली में 2 नए मामले सामने आये। वहीं पश्चिम बंगाल में पहला मामला सामने आया जिसमें एक व्यक्ति इंग्लैंड से लौटा था।

19 से 20 मार्च[संपादित करें]

  • 20 मार्च को, लंदन से लौटे बॉलीवुड गायक कणिका कपूर में लखनऊ में सकारात्मक कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई।[63] एक 69 वर्षीय इतालवी व्यक्ति जिसका पहले कोरोनोवायरस का सफल इलाज हुआ था, का राजस्थान में दिल का दौरा पड़ने के कारण मृत्यु हुई।[64] गुजरात में पहले दो मामलों की पुष्टि हुई, सूरत में एक महिला जो न्यूयॉर्क से लौटी थी और राजकोट में एक व्यक्ति जो मक्का से लौटा था, पॉज़िटिव मामला पाया गया।[65] जबकि तेलंगाना में दस नए मामले दर्ज किए गए, सात इंडोनेशियाई, एक 22 वर्षीय व्यक्ति, जो स्कॉटलैंड से लौटा था,[66] और लंदन से लौटे दो व्यक्तियों में पॉज़िटिव मामला पाया गया।[67] वहीं लखनऊ में चार और लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई - तीन पहले से संक्रमित डॉक्टर से संबंधित थे और एक खाड़ी से लौटा था।[68] पंजाब के मोहाली में एक और मामला सामने आया जहां यूनाइटेड किंगडम से लौटी एक 68 वर्षीय महिला है।[69] कोलकाता में एक 20 वर्षीय व्यक्ति जो यूनाइटेड किंगडम से लौटा था, में पॉज़िटिव केस पाया गया।[70] तेलंगाना में लंदन की यात्रा करने वाली एक 18 वर्षीय लड़की में सकारात्मक वायरस की पुष्टि हुई।[71] महाराष्ट्र में तीन और मामले सामने आए - मुंबई, पुणे और पिंपरी-चिंचवड में एक-एक।[72] हिमाचल प्रदेश में पहले दो मामलों की पुष्टि हुई।[73] तो केरल में 12 और मामले दर्ज किए गए - एर्नाकुलम में पांच, कासरगोड में छह और पालक्काड़ में एक।[74] भीलवाड़ा, राजस्थान में, छह लोगों में सकारात्मक मामला पाया गया।[75] स्पेन से लौटे एक जोड़े में जयपुर में सकारात्मक कोरोना वायरस पाया गया।[76]

21 से 22 मार्च[संपादित करें]

  • 21 मार्च को, नोएडा ने सुपरटेक केपटाउन समाज में एक मामले की पुष्टि हुई।[77] पश्चिम बंगाल में स्कॉटलैंड की यात्रा करने वाली महिला में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई।[78] वहीं पंजाब में कोरोनोवायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 13 हुई।[79] राजस्थान में छह नए मामले सामने आए - पांच भीलवाड़ा से और एक जयपुर से।[80][81] कर्नाटक में, तीन और सकारात्मक मामलों की पुष्टि की गई।[82][83] तमिलनाडु में तीन और सकारात्मक मामलों की पुष्टि की गई, जो सभी विदेशी नागरिक है।[84][85]
  • 22 मार्च को, तीन और मौतें होने की पुष्टि की गई - मुंबई[86] में एक 63 वर्षीय, पटना[87] में एक 38 वर्षीय व्यक्ति और सूरत में एक 64 वर्षीय व्यक्ति की मृत्यु हुई।[88] कर्नाटक में एक 33 वर्षीय व्यक्ति में सकारात्मक कोरोना वायरस की पुष्टि हुई।[89] जबकि महाराष्ट्र में दस और लोगों में पॉज़िटिव मामला पाया गया - मुंबई से छह और पुणे से चार लोग है।[90] वहीं पंजाब में सात और मामलों की पुष्टि की गई, जिनमें से सभी पथलवा गाँव के 70 वर्षीय व्यक्ति के संपर्क में आए लोग है, जिन्होंने पिछले सप्ताह में वायरस के कारण दम तोड़ दिया था।[91] गुजरात में चार और मामले दर्ज किए - दो अहमदाबाद और दो गांधीनगर से है।[92] तेलंगाना में, आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में एक 24 वर्षीय व्यक्ति में सकारात्मक मामला पाया गया।[93] जबकि कर्नाटक में 15 और लोगों में सकारात्मक कोरोना वायरस पाया गया।[94] राजस्थान में तीन नए मामले सामने आए - भीलवाड़ा, झुंझुनू और जोधपुर में एक-एक मामला है।[95]

23 से 24 मार्च[संपादित करें]

  • 24 मार्च को, केरल के कोड़िकोड में दो और मामले सामने आए - एक 42 वर्षीय व्यक्ति जो अबू धाबी से लौटा था और एक 27 वर्षीय व्यक्ति चेरापुरम का रहने वाला है।[99] मणिपुर में पूर्वोत्तर में पहला मामला सामने आया है। [100] महाराष्ट्र में, चार और मामले सामने आए - तीन पुणे से और एक सतारा से।[101] तो तेलंगाना में तीन और मामले सामने आए - कोकपेट, चंदा नगर और बेगमपेट से एक-एक मामला है।[102] पंजाब में छह और लोगों में सकारात्मक कोरोना वायरस पाया गया, जिनमें से सभी 70 वर्षीय नवांशहर निवासी के संपर्क में आए थे, जिसमें कोरोना वायरस पाया गया था और पिछले सप्ताह कार्डियाक अरेस्ट से मृत्यु हुई थी।[103] चेन्नई में तीन और मामले सामने आए - एक 74 वर्षीय पुरुष और एक 52 वर्षीय महिला है, जो संयुक्त राज्य अमेरिका से लौटे और एक 25 वर्षीय महिला जो स्विट्जरलैंड से लौटी थी।[104] मिज़ोरम में पहला मामला सामने आया जो क़तर, ऐम्स्टर्डैम, इस्तांबुल और दोहा की यात्रा करते हुए लौटा था।[105]

25 से 26 मार्च[संपादित करें]

  • 25 मार्च को, तमिलनाडु के मदुरै में 54 वर्षीय बुजुर्ग की कोरोना वायरस के मौत हुई हुई। यह देश में ग्यारहवीं मौत है।[106][107] पटना, बिहार के एक 29 वर्षीय, जो गुजरात से लौटा था, में सकारात्मक कोरोना वायरस पाया गया।[108] गुजरात में तीन और मामले सामने आए - अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा में एक-एक मामला है, जिनमें से एक दुबई की यात्रा की।[109] कांग्रेस नेता कमलनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल हुई एक पत्रकार की बेटी में सकारात्मक मामले की पुष्टि हुई।[110]उज्जैन की 65 वर्षीय संक्रमित महिला की इंदौर में, संक्रमण की पुष्टि के दिन ही मृत्यु हुई।[111]वहीं, अहमदाबाद में विदेश यात्रा करके लौटी एक 85 वर्षीय की इस रोग से मौत हो गई।[112] तमिलनाडु में पांच और मामले सामने आए जिसमें से चार इंडोनेशियाई और एक चेन्नई से उनका यात्रा गाइड है।[113] जबकि महाराष्ट्र में छह और मामले मुंबई से और एक ठाणे से दर्ज किया गया।[114]
  • 26 मार्च को, जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में एक 65 वर्षीय व्यक्ति[115], गुजरात के भावनगर[116] में 70 वर्षीय व्यक्ति और कर्नाटक के गौरीबदनूर[117] की एक 75 वर्षीय महिला तथा महाराष्ट्र के नवी मुंबई[118] की एक 65 वर्षीय महिला देश में चौदहवें, पंद्रहवें, सोलहवें और सत्रहवीं वायरस की शिकार हुए। गोवा में तीन और मामले दर्ज किए गए - एक 25 वर्षीय व्यक्ति, जो स्पेन से लौटा, एक 29 वर्षीय व्यक्ति जो ऑस्ट्रेलिया से आया और एक 55 वर्षीय व्यक्ति जो अमेरिका से लौटा है।[119] लखनऊ में चार और लोगों में सकारात्मक मामले पाए गए जिसमें से एक 21 वर्षीय महिला, जिसके माता-पिता में सकारात्मक मामला पाया गया था, एक 32 वर्षीय व्यक्ति जो दुबई से, एक 33 वर्षीय महिला और एक 39 वर्षीय- बूढ़े आदमी में कोरोना वायरस पाया गया।[120] तेलंगाना में पाँच और सकारात्मक मामले सामने आए।[121] जिसमें सकारात्मक कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई है। इंदौर में 5 पॉजिटिव केस सामने आए।[122]उत्तर प्रदेश के नोएडा में तीन और मामले सामने आए।[123] अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में पहला मामला दर्ज किया गया जो चेन्नई से लौटा था।[124] महाराष्ट्र में दो और मामलों की पुष्टि हुई - एक मुंबई और ठाणे में पाए गए।[125] बिहार में तीन और मामले सामने आए - एक पटना में 20 वर्षीय व्यक्ति; मुंगेर की एक 40 वर्षीय महिला और एक 12 वर्षीय लड़का, जो राज्य के 38 वर्षीय व्यक्ति के संपर्क में आए थे, जिन्होंने वायरस के कारण बीते दिनों दम तोड़ दिया था।[126][127] जबकि आंध्र प्रदेश में दो और सकारात्मक मामले सामने आए।[128]

27 से 28 मार्च[संपादित करें]

29 से 30 मार्च[संपादित करें]

31 मार्च[संपादित करें]

अप्रैल[संपादित करें]

1 से 2 अप्रैल[संपादित करें]

3 से 4 अप्रैल[संपादित करें]

5 से 6 अप्रैल[संपादित करें]

7 से 8 अप्रैल[संपादित करें]

  • 7 अप्रैल को, महाराष्ट्र में 23 सकारात्मक मामले सामने आए।[278] कर्नाटक में 12 सकारात्मक मामले सामने आए।[279] राजस्थान में तीन सकारात्मक मामले सामने आए।[280] जबकि मोहाली में 7 और मामलों की पुष्टि हुई और सभी एक ही गांव के हैं, 2 मनसा से, 1 पठानकोट से नए मामले सामने आए है।

9 से 10 अप्रैल[संपादित करें]

  • 9 अप्रैल को, देश में मरने वालों की संख्या बढ़कर एक सौ उनसत्तर हुई।[287] महाराष्ट्र में दो सौ ग्यारह मामले दर्ज किए गए।[288] तमिलनाडु में छियानवे लोगों में कोरोना वायरस सकारात्मक पाया गया।[289] गुजरात में छिहत्तर लोगों में वायरस की पुष्टि हुई।[290] दिल्ली में इक्यावन नए मामलों की पुष्टि हुई।[291] जबकि हिमाचल प्रदेश में एक सकारात्मक मामला सामने आया।.[292] तो मध्य प्रदेश में एक डॉक्टर और उसकी पत्नी सहित 22 सकारात्मक मामलों की पुष्टि हुई है।[293][294] ढेंकनाल में 51 साल की महिला और भुवनेश्वर में पश्चिम बंगाल की 69 वर्षीय व्यक्ति में वायरस होने की पुष्टि की गई।[295] मोहाली में 7 और पॉजिटिव मामले सामने आए।[296] वहीं पंजाब में चार और मामलों की पुष्टि हुई - जिसमें 3 जालंधर से और 1 अमृतसर से है।[297]

11 से 12 अप्रैल[संपादित करें]

  • 12 अप्रैल, को राजस्थान में 51 मामले सामने आए।[315] ओडिशा[316] में 54, मुंबई में धारावी[317] में 15 मामले सामने आए। जबकि गुजरात[318] में 25 सकारात्मक मामले सामने आए है। केरल में एक ही दिन में 36 लोग कोरोना वायरस से स्वस्थ हुए हैं।[319] मुंबई में 217 सकारात्मक मामले सामने आए।[320] वहीं जम्मू-कश्मीर में 21 सकारात्मक मामले सामने आए।[321] मोहाली के जवाहरपुर गाँव में 2 और मामलों की पुष्टि हुई जहाँ 80 साल की और 55 साल की महिलाओं में सकारात्मक मामले पाये गए।[322] कर्नाटक में एक 70 वर्षीय महिला को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। इसके अलावा सात और मरीजों को छुट्टी दी गई है।[323]

13 से 14 अप्रैल[संपादित करें]

  • 14 अप्रैल, को कोरोना वायरस से अलग-अलग जगह 29 लोगों की मौतें हुई हैं।[333] मोहाली में एक 56 वर्षीय महिला और 38 वर्षीय महिला में सकारात्मक वायरस की पुष्टि हुई।[334] गुजरात[335] में 45 नए मामले सामने आए जबकि आंध्र प्रदेश[336] में 34 और हरियाणा में दो मामले सामने आए।[337] इसके अलावा केरल में 8 सकारात्मक मामले सामने आए।[338] वहीं मुंबई[339] में 204, राजस्थान[340] में 71 सकारात्मक मामले सामने आए। गुरदासपुर जिले में पहला मामला दर्ज किया गया जहां एक 60 वर्षीय व्यक्ति में वायरस होने की पुष्टि हुई जो जालंधर के किसी एक अस्पताल से लौटा था।[341]

15 से 16 अप्रैल[संपादित करें]

17 से 18 अप्रैल[संपादित करें]

19 अप्रैल[संपादित करें]

देश में अलग-अलग जगह कुल 31 लोगों के मौतों की पुष्टि हुई।[380]

20 अप्रैल[संपादित करें]

देश में अलग-अलग जगह कुल 40 लोगों के मौतों की पुष्टि हुई और 1,540 नए मामले सामने आए।[388]

गोवा के बाद, अब मणिपुर भी कोरोनावायरस मुक्त राज्य। जहां दो लोग कोरोना से संक्रमित थे, लेकिन अब दोनों ठीक हो गए हैं।[389]

21 अप्रैल[संपादित करें]

देश में अलग-अलग जगह कुल 44 लोगों के मौतों की पुष्टि हुई।[396]

  • मध्य प्रदेश: राज्य में 18 मामले सामने आए।[397]
  • उत्तर प्रदेश: आगरा[398] में 28 मामले सामने आए। जबकि रायबरेली[399] में 31 मामले सामने आए।
  • पश्चिम बंगाल: में 29 मामले दर्ज किए गए।[400]
  • महाराष्ट्र: धारावी में 12 नए मामले सामने आए।[401]
  • पंजाब: मोहाली से एक नए मामले की पुष्टि हुई जहां एक 25 साल के लड़के में कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया और 5 कोरोना पॉजिटिव मामलों की पुष्टि पटियाला में हुई और जो सभी कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए थे।[402]

22 अप्रैल[संपादित करें]

देश में अलग-अलग जगह कुल 49 लोगों के मौतों की पुष्टि हुई।:[403]

  • भारत ने चीनी रेपिड परीक्षण किटों पर रोक लगाई।[404]
  • राजस्थान: राजस्थान में 64 मामले सामने आए।[405]
  • उत्तर प्रदेश: मेरठ[406] में छह मामले सामने आए। जबकि कानपुर[407] में 2, सहारनपुर[408] में 26 मामले सामने आए।
  • महाराष्ट्र: धारावी में नौ मामले सामने आए।[409]
  • तमिलनाडु: राज्य में 33 मामले सामने आए।[410]
  • केरल: राज्य में 11 मामले सामने आए।[411]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 27 मामले दर्ज किए गए।[412]

23 अप्रैल[संपादित करें]

देश में अलग-अलग जगह कुल 34 मृत्यु और 1299 नए मामले सामने आए हैं।[413]

24 अप्रैल[संपादित करें]

  • राजस्थान: राज्य में 70 नए मामले सामने आए।[419]
  • महाराष्ट्र: मुंबई के धारावी में 6 मामले सामने आए।[420]
  • उत्तराखंड: राज्य में 1 मामला सामने आया।[421]
  • पंजाब: लुधियाना[422], जालंधर[423] और अमृतसर में एक-एक नए मामले की पुष्टि हुई जबकि पटियाला में 6 और मनसा में 2 मामलों की पुष्टि हुई।[424]
  • तमिलनाडु: राज्य में 72 नए मामले सामने आए, जिनमें 52 चेन्नई के रहने वाले है।[425]

25 अप्रैल[संपादित करें]

56 मौतें और 1490 मामले सामने आए।[426]

  • बिहार: राज्य में 2 मामले सामने आए।[427]
  • महाराष्ट्र: मुंबई के धारावी में 21 मामले सामने आए।[428] साथ ही राज्य में 96 पुलिस कर्मियों में सकारात्मक कोरोना वायरस पाया गया।
  • कर्नाटक: राज्य में 26 मामले सामने आए।[429]
  • झारखंड: रांची में 4 पॉजिटिव मामले पाए गए।[430]
  • पंजाब: राज्य में 8 नए मामले सामने आए।[431]
  • राजस्थान: राज्य में 49 नए मामले सामने आए और 2 लोगों की मौतें हुईं।[432]

26 अप्रैल[संपादित करें]

47 मौतें और 1975 मामले दर्ज किए गए।[433]

  • मध्य प्रदेश: इंदौर में 91 मामले सामने आए।[434]
  • बिहार: राज्य में 15 मामले सामने आए।[435]
  • उत्तर प्रदेश: सहारनपुर में 13 मामले सामने आए।[436]
  • हरियाणा: राज्य में 9 मामले सामने आए।[437]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 440 मामले सामने आए।[438]
  • पंजाब: जालंधर में 9 सकारात्मक मामलों की पुष्टि हुई।[439]
  • तमिलनाडु: राज्य में 64 सकारात्मक मामलों की पुष्टि हुई।[440]
  • राजस्थान: राज्य में 102 मामलों की पुष्टि हुई।[441]

27 अप्रैल[संपादित करें]

  • झारखंड: जामताड़ा शहर में पहले मामले की पुष्टि हुई।[442] रांची में 7 मामले सामने आए।[443]
  • महाराष्ट्र: मुंबई में धारावी में 13 मामले सामने आए।[444]
  • चंडीगढ़: शहर में 4 मामले सामने आए।[445]
  • तमिलनाडु: राज्य में 52 मामले सामने आए।[446]
  • राजस्थान: राज्य में 77 मामले सामने आए।[447]

28 अप्रैल[संपादित करें]

देश में अलग-अलग जगह पर कुल 51 लोगों की मृत्यु हुई और 1594 मामले सामने आए।[448]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 82 मामले सामने आए।[449]
  • मध्य प्रदेश: इंदौर में 19 मामले सामने आए।[450]
  • गुजरात: राज्य में 226 मामले सामने आए।[451]
  • महाराष्ट्र: धारावी में 42 मामले सामने आए।[452]
  • पंजाब: राज्य के मोहाली में 2 मामले सामने आए।[453]
  • तमिलनाडु: राज्य में 121 मामले सामने आए, जिनमें से 103 चेन्नई के है।[454]
  • उत्तराखंड: देहरादून में 1 मामला सामने आया।[455]
  • जम्मू और कश्मीर: प्रदेश में 23 मामले सामने आए।[456]
  • राजस्थान: राज्य में 102 मामले सामने आए हैं।[457]

29 अप्रैल[संपादित करें]

  • चंडीगढ़: शहर में 12 मामले सामने आए।[458]
  • ओडिशा: राज्य में 7 मामले सामने आए।[459]
  • बिहार: राज्य में 9 मामले सामने आए।[460]
  • केरल: राज्य में 10 मामले सामने आए।[461]
  • झारखंड: राज्य में 106 मामले सामने आए।[462]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 33 मामले सामने आए।[463]
  • पंजाब: राज्य में 18 मामले सामने आए।[464]
  • राजस्थान: राज्य में 74 मामले सामने आए।[465]
  • तमिलनाडु: राज्य में 104 मामले सामने आए।[466]

30 अप्रैल[संपादित करें]

  • हरियाणा: राज्य में 18 मामले सामने आए।[467]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 71 मामले सामने आए।[468]
  • महाराष्ट्र: धारावी से 25 मामले सामने आए।[469]
  • पंजाब: राज्य में 105 मामले सामने आए।[470]
  • चंडीगढ़: शहर में 5 मामले सामने आए।[471]
  • तमिलनाडु: राज्य में 161 मामले सामने आए।[472]
  • ओडिशा: राज्य में 14 मामले सामने आए।[473]
  • राजस्थान: राज्य में 146 मामले सामने आए।[474]

मई[संपादित करें]

1 मई[संपादित करें]

देशभर में अलग-अलग जगह 77 मौतें हुई और 1755 मामले सामने आए।[475]

भारत सरकार ने 17 मई तक दो सप्ताह के लिए देशव्यापी लॉकडाउन को आगे बढ़ाया।[476]

  • कर्नाटक: राज्य में 11 मामले सामने आए।[477]
  • ओडिशा: राज्य में 1 मामला सामने आया।[478]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 583 मामले सामने आए।[479]
  • झारखंड: राज्य में 4 मामले सामने आए।[480]
  • तेलंगाना: राज्य में 22 मामले सामने आए।[481]
  • राजस्थान: राज्य में 82 मामले सामने आए।[482]
  • गुजरात: राज्य में 313 मामले सामने आए।[483]

2 मई[संपादित करें]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 62 मामले सामने आए।[484]
  • पंजाब: राज्य में 195 मामले सामने आए।[485] मोहाली में 2 मामले दर्ज।[486]
  • महाराष्ट्र: नागपुर में 11 मामले सामने आए।[487] जबकि पूरे राज्य में 790 सकारात्मक मामले सामने आए।[488]
  • हरियाणा: राज्य में 47 मामले सामने आए।[489]
  • ओडिशा: राज्य में 2 मामले सामने आए।[490]
  • तमिलनाडु: राज्य में 231 मामले सामने आए।[491]
  • राजस्थान: राज्य में 106 नए मामले सामने आए।[492]

3 मई[संपादित करें]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 58 मामले सामने आए।[493]
  • पंजाब: राज्य में 331 मामले सामने आए।[494]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 35 मामले सामने आए।[495]
  • कर्नाटक: राज्य में 3 मामले सामने आए।[496]
  • उत्तराखंड: राज्य में केवल 1 मामला सामने आया था।[497]
  • ओडिशा: राज्य में 2 मामले सामने आए।[498]
  • राजस्थान: राज्य में 114 मामले सामने आए।[499]

4 मई[संपादित करें]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 67 मामले सामने आए।[500]
  • हरियाणा: राज्य में 75 मामले सामने आए।[501]
  • पंजाब: राज्य में 132 मामले दर्ज किए गए।[502]
  • तमिलनाडु: राज्य में 527 मामले सामने आए।[503]
  • चंडीगढ़: शहर में 5 मामले सामने आए।[504]
  • बिहार: राज्य में 6 मामले सामने आए।[505]
  • राजस्थान: राज्य में 175 मामले सामने आए।[506]

5 मई[संपादित करें]

  • त्रिपुरा: राज्य में 13 सीमा सुरक्षा बल के जवानों में सकारात्मक कोरोना वायरस पाया गया।[507]
  • कर्नाटक: राज्य में 8 मामले सामने आए।[508]
  • चंडीगढ़: शहर में 13 मामले सामने आए।[509]
  • झारखंड: राज्य में 4 मामले सामने आए।[510]
  • पंजाब: राज्य में 219 मामले सामने आए।[511]
  • राजस्थान: में राज्य में 97 मामले सामने आए।[512]

6 मई[संपादित करें]

11 मौतें और 2680 मामले दर्ज किए गए थे।[513]

  • तेलंगाना सरकार ने राज्य में 29 मई तक लॉकडाउन को बढ़ाने की घोषणा की।[514]
  • ओडिशा: राज्य में 1 मामला दर्ज किया गया।[515]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 122 मामले सामने आए।[516]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 1233 मामले सामने आए और मुंबई में धारावी में 68 मामले सामने आए।[517]
  • कर्नाटक: राज्य में 20 मामले सामने आए।[518]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 34 मामले सामने आए।[519]
  • तमिलनाडु: राज्य में 771 मामले सामने आए।[520]
  • राजस्थान: राज्य में 159 मामले दर्ज किए गए, बीएसएफ के 30 सैनिकों में कोरोना वायरस पाया जो COVID-19 प्रबंधन ड्यूटी के बाद दिल्ली से लौटे।[521]

7 मई[संपादित करें]

देश में कुल मामलों की संख्या 50,000 के पार पहुंची।[522]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 56 मामले सामने आए।[523]
  • कर्नाटक: राज्य में 8 मामले सामने आए।[524]
  • झारखंड: राज्य में 5 मामले सामने आए।[525]
  • हरियाणा: राज्य में 31 मामले सामने आए।[526]
  • तमिलनाडु: राज्य में 580 मामले सामने आए।[527]
  • कर्नाटक: में राज्य में 12 मामले सामने आए।[528]
  • महाराष्ट्र: मुंबई शहर में 250 पुलिसकर्मीयों में कोरोना वायरस के मामले दर्ज किए गए।[529]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 92 मामले सामने आए।[530]
  • राजस्थान: राज्य में 110 मामले सामने आए।[531]

8 मई[संपादित करें]

  • ओडिशा: राज्य में 26 मामले सामने आए।[532]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 54 मामले सामने आए।[533]
  • तमिलनाडु: राज्य में 600 मामले सामने आए।[534]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 30 मामले सामने आए।[535]
  • पंजाब: राज्य में 87 मामले सामने आए।[536]
  • चंडीगढ़: शहर में 146 मामले सामने आए।[537]
  • उत्तराखंड: राज्य में 2 मामले सामने आए।[538]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 130 मामले सामने आए।[539]
  • राजस्थान: राज्य में 152 मामले सामने आए।[540]

9 मई[संपादित करें]

  • उत्तराखंड: राज्य में 4 मामले सामने आए।[541]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 43 मामले सामने आए।[542]
  • चंडीगढ़: शहर में 23 मामले सामने आए।
  • पंजाब: राज्य में 31 मामले सामने आए।[543]
  • महाराष्ट्र: मुंबई में धारावी से 25 मामले सामने आए।[544]
  • कर्नाटक: राज्य में 41 मामले सामने आए।[545]
  • गुजरात: राज्य में 394 मामले सामने आए।[546]
  • तमिलनाडु: राज्य में 526 मामले सामने आए।[547]
  • राजस्थान: राज्य में 129 मामले सामने आए।[548]

10 मई[संपादित करें]

  • हरियाणा: राज्य में 20 मामले सामने आए।[549]
  • कर्नाटक: राज्य में 53 मामले सामने आए।[550]
  • तमिलनाडु: राज्य में 669 मामले सामने आए।[551]
  • महाराष्ट्र: मुंबई के धारावी से 26 मामले सामने आए।[552]
  • ओडिशा: राज्य में 23 मामले सामने आए।[553]
  • दिल्ली में 224 मामले सामने आए।[554]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 43 मामले सामने आए।[555]
  • उत्तर प्रदेश: राज्य में 84 मामले सामने आए।[556]
  • राजस्थान: राज्य में 106 मामले सामने आए।[557]

11 मई[संपादित करें]

97 मौतें और 4213 नए मामले दर्ज किए गए।[558]

11 मई तक कुल 20,000 लोग कोरोना वायरस से ठीक हुए।[559]

  • बिहार: राज्य में 11 मामले सामने आए।[560]
  • कर्नाटक: राज्य में 14 मामले सामने आए।[561]
  • पंजाब: राज्य में 54 मामले सामने आए।[562]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 18 मामले सामने आए।[563]
  • दिल्ली: केंद्र शासित प्रदेश में 310 मामले सामने आए।[564]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 38 मामले सामने आए।[565]
  • राजस्थान: राज्य में 174 मामले सामने आए।[566]

12 मई[संपादित करें]

87 मौतें और 3604 नए मामले दर्ज किए गए।[567]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 33 मामले सामने आए।[568]
  • हिमाचल प्रदेश: राज्य में 4 मामले सामने आए।[569]
  • तमिलनाडु: राज्य में 716 मामले सामने आए।[570]
  • जम्मू-कश्मीर: राज्य में 55 मामले सामने आए।[571]
  • पंजाब: राज्य में 37 मामले सामने आए।[572]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 37 मामले सामने आए।[573]
  • महाराष्ट्र: मुंबई के धारावी में 46 मामले सामने आए।[574]
  • बिहार: राज्य में 34 मामले सामने आए।[575]
  • दिल्ली: राज्य में 406 मामले सामने आए।[576]
  • राजस्थान: राज्य में 138 मामले सामने आए।[577]

13 मई[संपादित करें]

122 मौतें और 3525 मामले दर्ज किए गए।[578]

  • चंडीगढ़: शहर में 2 मामले सामने आए।[579]
  • कर्नाटक: राज्य में 26 मामले सामने आए।[580]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 1495 मामले दर्ज किए गए और मुंबई के धारावी में 46 मामले सामने आए।[581][582]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 48 मामले सामने आए।[583]
  • पंजाब: राज्य में 37 मामले सामने आए।[584]
  • तमिलनाडु: राज्य में 509 मामले सामने आए।[585]
  • बिहार: राज्य में 84 मामले सामने आए।[586]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 37 मामले सामने आए।[587]
  • गुजरात: राज्य में 364 मामले सामने आए।[588]
  • राजस्थान: राज्य में 202 मामले सामने आए।[589]

14 मई[संपादित करें]

134 मौतें और 3722 मामले दर्ज किए गए।[590]

  • उत्तराखंड: राज्य में 3 मामले सामने आए।[591]
  • दिल्ली: राज्य में 472 मामले सामने आए।[592]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 68 मामले सामने आए।[593]
  • कर्नाटक: राज्य में 22 मामले सामने आए।[594]
  • महाराष्ट्र: राज्य में कुल 1602 मामले सामने आए जिसमें 1001 पुलिसकर्मियों में सकारात्मक कोरोना वायरस पाया गया।[595][596]
  • पंजाब: राज्य में 11 मामले सामने आए।[597]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 12 मामले सामने आए।[598]
  • तमिलनाडु: राज्य में 447 मामले सामने आए।[599]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 87 मामले सामने आए।[600]
  • राजस्थान: राज्य में 206 मामले सामने आए।[601]

15 मई[संपादित करें]

100 मौतें और 3997 मामले सामने आए।[602]

  • राजस्थान: राज्य में 213 मामले सामने आए।[603]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 57 मामले सामने आए।[604]
  • उत्तर प्रदेश: राज्य में 43 मामले सामने आए।[605]
  • केरल: राज्य में 16 मामले सामने आए।[606]
  • कर्नाटक राज्य में 69 मामले सामने आए।[607]
  • झारखंड: राज्य में 2 मामले सामने आए।[608]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 1576 मामले सामने आए।[609]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 84 मामले सामने आए।[610]
  • पंजाब: राज्य में 13 मामले सामने आए।[611]

16 मई[संपादित करें]

पंजाब सरकार ने 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की।[612]

  • दिल्ली: राज्य में 438 मामले सामने आए।[613]
  • बिहार: राज्य में 46 मामले सामने आए।[614]
  • तमिलनाडु: राज्य में 447 मामले सामने आए।[615]
  • केरल: राज्य में 87 मामले सामने आए।[616]
  • कर्नाटक: राज्य में 36 मामले सामने आए।[617]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 115 मामले सामने आए।[618]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 102 मामले सामने आए।[619]
  • उत्तर प्रदेश: राज्य में 155 मामले सामने आए।[620]
  • महाराष्ट्र: मुंबई में 884 मामले सामने आए।
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 108 मामले सामने आए।[621]
  • गुजरात: राज्य में 1057 मामले सामने आए।[622]
  • राजस्थान: राज्य में 213 मामले सामने आए, जिनमें से 119 जिला जेल, जयपुर के कैदी थे।[623]

17 मई[संपादित करें]

120 मौतें और 4987 मामले सामने आए।[624]

राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण ने सभी भारतीय राज्यों में 31 मई तक लॉकडाउन आगे बढ़ाने की घोषणा की।[625]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 25 मामले सामने आए।[626]
  • कर्नाटक: राज्य में 54 मामले सामने आए।[627]
  • तमिलनाडु: राज्य में 639 मामले सामने आए।[628]
  • पंजाब: राज्य में 18 मामले सामने आए।[629]
  • बिहार: राज्य में 58 मामले सामने आए।[630]
  • केरल: राज्य में 14 मामले सामने आए।[631]
  • हिमाचल प्रदेश: राज्य में 2 मामले सामने आए।[632]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2347 मामले सामने आए।[633]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 62 मामले सामने आए।[634]
  • राजस्थान: राज्य में 242 मामले सामने आए।[635]

18 मई[संपादित करें]

  • उत्तराखंड: राज्य में 1 मामला सामने आया।[636]
  • बिहार: राज्य में 37 मामले सामने आए।[637]
  • हिमाचल प्रदेश: राज्य में 5 मामले सामने आए।[638]
  • कर्नाटक: राज्य में 99 मामले सामने आए।[639]
  • केरल: राज्य में 29 मामले सामने आए।[640]
  • असम: राज्य में 2 मामले सामने आए।[641]
  • तमिलनाडु: राज्य में 536 मामले सामने आए।[642]
  • पंजाब: राज्य में 16 मामले सामने आए।[643]
  • दिल्ली: राज्य में 299 मामले सामने आए।[644]
  • गुजरात: राज्य में 366 मामले सामने आए।[645]
  • ओडिशा: राज्य में 48 मामले सामने आए।[646]
  • राजस्थान : राज्य में 305 मामले सामने आए।[647]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2033 मामले सामने आए।[648]

19 मई[संपादित करें]

134 मौतें 4970 मामले सामने आए।[649]

मामलों की कुल संख्या 100,000 के पार पहुंची।[650]

  • कर्नाटक: राज्य में 127 मामले सामने आए।[651]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 57 मामले सामने आए।[652]
  • छत्तीसगढ़: राज्य में 57 मामले सामने आए।[653]
  • हिमाचल प्रदेश: राज्य में 10 मामले सामने आए।[654]
  • केरल: राज्य में 12 मामले सामने आए।[655]
  • बिहार: राज्य में 53 मामले सामने आए।[656]
  • उत्तराखंड: राज्य में 8 मामले सामने आए।[657]
  • असम: राज्य में 13 मामले सामने आए।[658]
  • गुजरात: राज्य में 395 मामले सामने आए।[659]
  • तमिलनाडु: राज्य में 601 मामले सामने आए।[660]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 28 मामले सामने आए।[661]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 136 मामले सामने आए।[662]
  • पंजाब: राज्य में 22 मामले सामने आए।[663]
  • राजस्थान: राज्य में 338 मामले सामने आए।[664]
  • महाराष्ट्र: में राज्य में 2127 मामले सामने आए।[665]

20 मई[संपादित करें]

  • दिल्ली: प्रदेश में 534 मामले सामने आए।[666]
  • उत्तराखंड: राज्य में 18 मामले सामने आए।[667]
  • कर्नाटक: राज्य में 67 मामले सामने आए।[668]
  • केरल: राज्य में 24 मामले सामने आए।[669]
  • गुजरात: राज्य में 398 मामले सामने आए।[670]
  • असम: राज्य में 13 मामले सामने आए।[671]
  • पंजाब: राज्य में 3 मामले सामने आए।[672]
  • तमिलनाडु: राज्य में 743 मामले सामने आए।[673]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 142 मामले सामने आए।[674]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2250 मामले सामने आए।[675]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 73 मामले सामने आए।[676]
  • हरियाणा: राज्य में 29 मामले सामने आए।
  • झारखंड: राज्य में 30 मामले सामने आए।
  • राजस्थान: राज्य में 170 मामले सामने आए।[677]

21 मई[संपादित करें]

132 मौतें 5609 मामले सामने आए।[678]

  • उत्तराखंड: राज्य में 10 मामले सामने आए।[679]
  • बिहार: राज्य में 96 मामले सामने आए।[680]
  • तमिलनाडु: राज्य में 776 मामले सामने आए।[681]
  • पंजाब: राज्य में 23 मामले सामने आए।
  • कर्नाटक: राज्य में 143 मामले सामने आए।[682]
  • दिल्ली: राज्य में 571 मामले सामने आए।[683]
  • गुजरात: राज्य में 371 मामले सामने आए।[684]v
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2345 मामले सामने आए।[685]
  • राजस्थान: राज्य में 212 मामले सामने आए।[686]

22 मई[संपादित करें]

148 मौतें 6088 मामले दर्ज किए गए।[687]

  • उत्तराखंड: राज्य में 5 मामले सामने आए।[688]
  • छत्तीसगढ़: राज्य में 16 मामले सामने आए।[689]
  • तमिलनाडु: राज्य में 786 मामले सामने आए।[690]
  • असम: राज्य में 12 मामले सामने आए।[691]
  • बिहार: राज्य में 118 मामले सामने आए।[692]
  • केरल: राज्य में 42 मामले सामने आए।[693]
  • कर्नाटक: राज्य में 138 मामले सामने आए।[694]
  • गुजरात: राज्य में 363 मामले सामने आए।[695]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2940 मामले सामने आए।[696]
  • राजस्थान: राज्य में 267 मामले सामने आए।[697]

23 मई[संपादित करें]

  • दिल्ली: राज्य में 591 मामले सामने आए।[698]
  • असम: राज्य में 53 मामले सामने आए।[699]
  • तमिलनाडु: राज्य में 710 मामले सामने आए।[700]
  • कर्नाटक: राज्य में 262 मामले सामने आए।
  • पंजाब: राज्य में 16 मामले सामने आए।[701]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2608 मामले सामने आए।[702]
  • राजस्थान: राज्य में 248 मामले सामने आए।[703]

24 मई[संपादित करें]

  • उत्तराखंड: राज्य में 53 मामले सामने आए।[704]
  • हरियाणा: राज्य में 21 मामले सामने आए।[705]
  • तमिलनाडु: राज्य में 765 मामले सामने आए।[706]
  • असम: राज्य में 4 मामले सामने आए।[707]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 3041 मामले सामने आए।[708]
  • राजस्थान: राज्य में 286 मामले सामने आए।[709]

25 मई[संपादित करें]

  • उत्तराखंड: राज्य में 25 मामले सामने आए।[710]
  • कर्नाटक: राज्य में 69 मामले सामने आए।[711]
  • तमिलनाडु: राज्य में 805 मामले सामने आए।[712]
  • पंजाब: राज्य में 21 मामले सामने आए।[713]
  • गुजरात: राज्य में 405 मामले सामने आए।[714]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2436 मामले सामने आए।[715]
  • दिल्ली: राज्य में 635 मामले सामने आए।[716]
  • राजस्थान: राज्य में 272 मामले सामने आए।[717]

26 मई[संपादित करें]

6535 मामले सामने आए और 146 मौतें हुईं।[718]

  • केरल: राज्य में 67 मामले सामने आए।[719]
  • उत्तराखंड: राज्य में 51 मामले सामने आए।[720]
  • पंजाब: राज्य में 25 मामले सामने आए।[721]
  • तमिलनाडु: राज्य में 646 मामले सामने आए।[722]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 193 मामले सामने आए।[723]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2091 मामले सामने आए।[724]
  • राजस्थान: राज्य में 236 मामले सामने आए।[725]

27 मई[संपादित करें]

  • असम: राज्य में 18 मामले सामने आए।[726]
  • उत्तराखंड: राज्य में 38 मामले सामने आए।[727]
  • तमिलनाडु: राज्य में 817 मामले सामने आए।[728]
  • कर्नाटक: राज्य में 122 मामले सामने आए।[729]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 68 मामले सामने आए।[730]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2190 मामले सामने आए।[731]
  • राजस्थान: राज्य में 280 मामले सामने आए।[732]

28 मई[संपादित करें]

194 मृत्यु और 6566 मामले दर्ज किए गए।[733]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 54 मामले सामने आए।[734]
  • ओडिशा: राज्य में 67 मामले सामने आए।[735]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 344 मामले सामने आए।[736]
  • तमिलनाडु: राज्य में 827 मामले सामने आए।[737]
  • कर्नाटक: राज्य में 115 मामले सामने आए।[738]
  • राजस्थान: राज्य में 251 मामले सामने आए।[739]

29 मई[संपादित करें]

  • उत्तराखंड: राज्य में 102 मामले सामने आए।[740]
  • कर्नाटक: राज्य में 248 मामले सामने आए।[741]
  • तमिलनाडु: राज्य में 874 मामले सामने आए।[742]
  • जम्मू और कश्मीर: राज्य में 128 मामले सामने आए।[743]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2682 मामले सामने आए।[744]
  • राजस्थान: राज्य में 298 मामले सामने आए।[745]

30 मई[संपादित करें]

गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन को 30 जून तक बढ़ाने का का ऐलान किया।[746]

  • बिहार: राज्य में 150 मामले सामने आए।
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 131 मामले सामने आए।[747]
  • हरियाणा: राज्य में 202 मामले सामने आए।[748]
  • कर्नाटक: राज्य में 141 मामले सामने आए।[749]
  • तमिलनाडु: राज्य में 856 मामले सामने आए।
  • गुजरात: राज्य में 412 मामले सामने आए।[750]
  • दिल्ली: राज्य में 1163 मामले सामने आए।[751]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2940 मामले सामने आए।[752]
  • राजस्थान: राज्य में 252 मामले सामने आए।[753]

31 मई[संपादित करें]

  • उत्तराखंड: राज्य में 53 मामले सामने आए।[754]
  • पश्चिम बंगाल: राज्य में 371 मामले सामने आए।[755]
  • तमिलनाडु: राज्य में 1149 मामले सामने आए।[756]
  • केरल: राज्य में 1149 मामले सामने आए।[757]
  • दिल्ली: राज्य में 1295 मामले सामने आए।[758]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2487 मामले सामने आए।[759]
  • राजस्थान: राज्य में 214 मामले सामने आए।[760]

जून[संपादित करें]

1 जून[संपादित करें]

204 मृत्यु और 8171 नए मामले दर्ज किए गए।[761]

  • असम: राज्य में 22 मामले सामने आए।[762]
  • ओडिशा: राज्य में 156 मामले सामने आए।[763]
  • दिल्ली: प्रदेश में 990 मामले सामने आए।[764]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2361 मामले सामने आए।[765]

2 जून[संपादित करें]

217 मृत्यु 8909 नए मामले दर्ज किए गए।[766]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 115 मामले सामने आए।[767]
  • तमिलनाडु: राज्य में 1091 मामले दर्ज किए गए।
  • केरल: राज्य में 86 मामले सामने आए।[768]

3 जून[संपादित करें]

  • तमिलनाडु: राज्य में 1286 मामले दर्ज किए गए।[769]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 79 मामले सामने आए।[770]
  • केरल: राज्य में 82 मामले सामने आए।[771]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2560 मामले सामने आए।[772]

4 जून[संपादित करें]

273 मौतें और 9851 मामले सामने आए।[773]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 98 मामले सामने आए।[774]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2933 मामले सामने आए।[775]
  • गुजरात: राज्य में 485 मामले सामने आए।[776]
  • तमिलनाडु: राज्य में 1373 मामले दर्ज किए गए।

5 जून[संपादित करें]

294 मौतें 9887 मामले सामने आए।[777]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 50 मामले सामने आए।[778]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 24376 मामले सामने आए।
  • तमिलनाडु: राज्य में 1438 मामले सामने आए।[779]
  • कर्नाटक: राज्य में 515 मामले सामने आए।[780]

6 जून[संपादित करें]

287 मृत्यु और 9971 मामले दर्ज किए गए।[781]

  • कर्नाटक: राज्य में 378 मामले सामने आए।[782]
  • बिहार: राज्य में 147 मामले सामने आए।[783]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 161 मामले सामने आए।[784]
  • महाराष्ट्र: राज्य में 2739 मामले सामने आए।[785]
  • गुजरात: राज्य में 498 मामले सामने आए।[786]

7 जून[संपादित करें]

271 मौतें और 9983 मामले दर्ज किए गए।[787]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 130 मामले सामने आए।[788]
  • दिल्ली: राज्य में 1320 मामले सामने आए।[789]

8 जून[संपादित करें]

271 मौतें और 9983 मामले दर्ज किए गए।[790]

  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 125 मामले सामने आए।[791]
  • ओडिशा: राज्य में 138 मामले सामने आए।[792]
  • केरल: राज्य में 91 मामले सामने आए।[793]

9 जून[संपादित करें]

  • तमिलनाडु: राज्य में 1685 मामले सामने आए।[794]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 147 मामले सामने आए।[795]
  • कर्नाटक: राज्य में 161 मामले सामने आए।[796]

10 जून[संपादित करें]

  • तमिलनाडु: राज्य में 1927 मामले सामने आए।[797]
  • कर्नाटक: राज्य में 120 मामले सामने आए।[798]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 1927 मामले सामने आए।[799]

11 जून[संपादित करें]

  • तमिलनाडु: राज्य में 1875 मामले सामने आए।[800]
  • कर्नाटक: राज्य में 204 मामले सामने आए।[801]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 135 मामले सामने आए।[802]

12 जून[संपादित करें]

  • तमिलनाडु: राज्य में 1982 मामले सामने आए।
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में 141 मामले सामने आए।[803]
  • ओडिशा: राज्य में 112 मामले सामने आए।[804]

13 जून[संपादित करें]

14 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों में नए मामले दर्ज किए गए:

  • तमिलनाडु: राज्य में नए 1974 मामले दर्ज किए गए।[805]
  • कर्नाटक: राज्य में नए 176 मामले दर्ज किए गए।[806]
  • आंध्र प्रदेश: राज्य में नए 253 मामले दर्ज किए गए।[807]

15 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों में नए मामले दर्ज किए गए:

  • कर्नाटक: राज्य में नए 213 मामले दर्ज किए गए।[808]
  • तमिलनाडु: राज्य में नए 1843 मामले दर्ज किए गए।[809]

16 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों में नए मामले दर्ज किए गए:

  • तमिलनाडु: राज्य में नए 1515 मामले दर्ज किए गए।
  • कर्नाटक: राज्य में नए 317 मामले दर्ज किए गए।[810]

17 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में नए मामले दर्ज किए गए है:

  • तमिलनाडु: 2174 मामले।[811]
  • पश्चिम बंगाल: 391 मामले।
  • आंध्र प्रदेश: 275 मामले।[812]

18 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में नए मामले दर्ज किए गए है:

  • तमिलनाडु: 2141 मामले।[813]
  • कर्नाटक: 210 मामले।[814]
  • आंध्र प्रदेश: 210 मामले।[815]

19 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में नए मामले दर्ज किए गए है:

  • तमिलनाडु: 2115 मामले।[816]
  • गुजरात: 540 मामले।[817]

20 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में नए मामले दर्ज किए गए है:

  • कर्नाटक: 416 मामले।[818]
  • तमिलनाडु: 2396 मामले।[819]

21 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में नए मामले दर्ज किए गए है:

  • तमिलनाडु: 2352 मामले।[820]
  • कर्नाटक: 453 मामले।
  • आंध्र प्रदेश: 477 मामले।[821]

22 जून[संपादित करें]

23 जून[संपादित करें]

निम्नलिखित राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में नए मामले दर्ज किए गए है:

  • तमिलनाडु: 2516 मामले।[822]
  • आंध्र प्रदेश: 462 मामले।[823]

सन्दर्भ[संपादित करें]

साँचा:टिप्पणीसूची

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

साँचा:Commons category