भारत में स्पैनिश फ़्लू महामारी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
इन्हें भी देखें: स्पेनी फ्लू

स्पैनिश फ़्लू सन १९१८ में पूरे विश्व में फैली एक विश्वमारी थी जिसे 1918 की फ्लू महामारी भी कहते हैं।[1][2] इसे अक्सर 'मदर ऑफ़ ऑल पैंडेमिक्स' यानी सबसे बड़ी महामारी कहा जाता है।[3] इस फ़्लू ने दुनिया की एक-तिहाई आबादी को संक्रमित कर दिया था। इसकी वजह से महज दो सालों (1918-1920) में 2 करोड़ से 5 करोड़ के बीच लोगों की मौत हो गई थी।[4] ज़्यादातर दुनिया भारत समेत मुतास्सिर हुई।[5] 1911 और 1921 के बीच का दशक एकमात्र जनगणना काल था जिसमें भारत की आबादी गिर गई थी, जो ज्यादातर स्पैनिश फ्लू महामारी के कारण हुई थी।[6][7][8] भारत में ही एक अनुमान के हिसाब से 1 करोड़ 80 लाख लोग मारे गए।[9][10]

अपने संस्मरणों में, हिंदी कवि सूर्यकान्त त्रिपाठी 'निराला' ने लिखा, "शवों के साथ गंगा में सूजन थी।"[11] 1918 के सैनिटरी कमिश्नर की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि दाह-संस्कार के लिए जलाऊ लकड़ी की कमी के कारण भारत भर में सभी नदियों को शवों से भरा गया था।[12][13]

यह फ्लू बॉम्बे में एक लौटे हुए सैनिकों के जहाज से 1918 में पूरे देश में फैला था।[14] हेल्थ इंस्पेक्टर जेएस टर्नर के मुताबिक इस फ्लू का वायरस दबे पांव किसी चोर की तरह दाखिल हुआ था और तेजी से फैल गया था।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "A study maps the spread (and decline) of the 1918 Spanish flu in India". Scroll.in. 2020-03-08. अभिगमन तिथि 2020-04-08.
  2. "Explained: When corpses of influenza victims were dumped in Narmada river in 1918".
  3. "स्पैनिश फ़्लूः एक ऐसी महामारी जिसके सबक हमने भुला दिए".
  4. "कोरोना वायरसः 1918 के स्पैनिश फ़्लू को कैसे रोका गया था?".
  5. "वो फ़्लू जिसने करोड़ों लोगों को मौत के मुंह में धकेल दिया". मूल से 5 अक्तूबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 जून 2020.
  6. "Why 1918 matters in India's corona war". मूल से 18 अप्रैल 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 जून 2020.
  7. "What the history of pandemics tells us about coronavirus". मूल से 21 अप्रैल 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 जून 2020.
  8. "स्पैनिश फ़्लू: भारत में जब दाह संस्कार के लिए लकड़ियाँ कम पड़ गई थीं". मूल से 4 मई 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 जून 2020.
  9. "References to death and disease in Hindi literature".
  10. "स्पैनिश फ्लू यानी जब मौत के तांडव ने दिया हिन्दी के महान कवि को जन्म".
  11. "स्पेनिश फ्लू:वो दौर जब गंगा में इंसानों की लाशें ही लाशें नजर आती थीं, दोनों विश्वयुद्धों में हुई कुल मौतों से भी कहीं ज्यादा".
  12. Mills, I D (1986). "The 1918–1919 Influenza Pandemic— The Indian Experience". The Indian Economic & Social History Review. 23 (1): 1–40. PMID 11617178. डीओआइ:10.1177/001946468602300102. नामालूम प्राचल |s2cid= की उपेक्षा की गयी (मदद)
  13. "An unwanted shipment: The Indian experience of the 1918 Spanish flu". Economic Times. 2020-04-03. अभिगमन तिथि 2020-04-08.
  14. "कोरोना: 1918 में आए फ़्लू से सबक ले सकता है भारत".

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]