भारत के प्रणालीगत महत्वपूर्ण बैंक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

भारत के प्रणालीगत महत्वपूर्ण बैंक भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा चिन्हित ऐसे भारतीय बैंक हैं जिनके फेल होने पर पूरी आर्थिक प्रणाली चरमरा सकती है। हैं।[1] सामान्यतः ये वे बैंक हैं जिनका कारोबार भारत की जीडीपी के २% से अधिक है। इसके अतिरिक्त भी कई अन्य कारक भी इस चयन का आधार हैं।

सूची[संपादित करें]

पृष्ठभूमि[संपादित करें]

२००८ के वैश्विक संकट के समय अमेरिका में कई बड़े बैंक फेल हुए, जिसके बाद अंतर्राष्ट्रीय तौर पर हर देश को अपने यहाँ ऐसे बैंको की पहचान करने को कहा गया।

संदर्भ[संपादित करें]