भद्रकाली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
भद्रकाली
प्रलय, निर्मोहिता और काल की देवी
Goddess Bhadrakali Worshipped by the Gods- from a tantric Devi series - Google Art Project.jpg
त्रिमूर्ति द्वारा पूजित मां भद्रकाली
संस्कृत लिप्यंतरण भद्र कालि
संबंध देवी, महाकाली, पार्वती, सती
मंत्र ॐ ग्लौम् भद्रकाल्यै नमः
अस्त्र त्रिशूल, कैंची, कटार, डमरू, चक्र, शंख, भाला, गदा, वज्र, ढाल, खप्पर, खड्ग, कृपाण, अंकुश, खंजर, दानव सिर
जीवनसाथी वीरभद्र (भगवान शिव का उग्र रूप)
सवारी शव
शास्त्र सभी धार्मिक ग्रंथ

भद्रकाली (शाब्दिक अर्थ : 'अच्छी काली')[1] हिन्दुओं की एक देवी हैं जिनकी पूजा मुख्यतः दक्षिण भारत में होती है। वे देवी दुर्गा की अवतार तथा भगवान शंकर के वीरभद्र अवतार की शक्ति अथवा पत्नी हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 20 जून 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 अक्तूबर 2018.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]