भंवरी देवी (गायिका)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भंवरी देवी[1] राजस्थानी लोक संगीत की मशहूर गायिका हैं।[2]

करीयर[संपादित करें]

वह राजस्थानी लोकगीतों के अलावा देवी-देवताओं के गीत जैसे पाबूजी, बालाजी, श्यामजी, रणचंद्रजी, कबीर, धर्मीदासजी, भनिनाथ और अमृतनाथजी गाती हैं।[3]

इसके अलावा भंवरी देवी जगदेव कंकाली, शरण कुमार, गोपी चंद्र, भरथरी, गोगाजी और सत्यवान सावित्री गीत जैसी वीर कथाएं भी बखूबी गाती हैं।

45 साल की भंवरी को बड़ी पहचान 2009 के पुष्कर मेले के दौरान मिली।

निजी जीवन[संपादित करें]

भंवरी की 14 साल की उम्र में ही शादी हो गई. फिर पति के साथ ही गायन के प्रति उनकी दिलचस्पी बढ़ी।[4]

2004 में पति की मौत के बाद भंवरी ने अपने नौ बच्चों के परिवार को पालने के लिए संगीत को ही ज़रिया बना लिया।[5]

एक्सटर्नल लिंक[संपादित करें]

https://www.facebook.com/Bhanwari-Devi-1142168939131852/

सन्दर्भ[संपादित करें]