बेशरम (1978 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
बेशरम
चित्र:बेशरम.jpg
बेशरम का पोस्टर
निर्देशक देवेन वर्मा
निर्माता देवेन वर्मा
नवरतन फिल्म्स
अभिनेता शर्मिला टैगोर,
अमिताभ बच्चन,
बिन्दू,
हेलन,
अमज़द ख़ान,
उर्मिला भट्ट,
उमा धवन,
धूमल,
ए के हंगल,
इफ़्तेख़ार,
इम्तियाज़,
जगदीश राज,
निरूपा रॉय,
जय श्री टी,
देवेन वर्मा,
संगीतकार कल्याणजी आनंदजी
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1978 (1978)
देश भारत
भाषा हिन्दी

बेशरम (अंग्रेजी: Shameless) 1978 में देवेन वर्मा द्वारा निर्मित व निर्देशित हिन्दी फिल्म जिसमे अमिताभ बच्चन, शर्मिला टैगोरअमज़द खान ने मुख्य भूमिका निभाई है| फरार के बाद अमिताभ के साथ रोमानी भूमिका में शर्मिला की यह अगली फिल्म है|

संक्षेप[संपादित करें]

रामचन्द्र (ए के हंगल) नामक अध्यापक को दिग्विजय सिंह (अमज़द खान भ्रष्ट सिद्ध करना के बाद वह आत्महत्या करता है| इसके बाद रामचन्द्र का बीमाकर्ता बेटा रामकुमार (अमिताभ बच्चन) कई कठिनायों को झेलता है| समाज में होती अन्याय रोकने व अपराधियों को दंड दिलाने वह पुलिस कमिश्नर (इफ़्तेख़ार) के साथ मिलता है|

कुछ वर्ष बाद दिग्विजय सिंह धर्मदास नामक उद्योगपति बनता है| वह वास्तव में तस्कर व्यापार व अपराधिक कार्यों को चलाते अपने दुश्मन व विश्वासघातियों को मारने कुछ विषैले साँप रखे है| इधर रामकुमार बनाम राजकुमार चन्द्रशेखर रिंकू (शर्मिला टैगोर) से प्रेम करता है| रिंकू धरमदास की बहन है और वह इस बात से अंजान है| धर्मदास की प्रेमिका मंजू (बिन्दू) का विशवास जीत धर्मदास के व्यापार में साझेदार बनता है| धर्मदास के अवैध व्यापार को बंद कराये उसे गिरफ्तार करता है|

चरित्र[संपादित करें]

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

दल[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

गीत गायक समय
"चोरी चोरी चुपके चुपके" लता मंगेशकर 4:45
"मेरे किस काम की ये जवानी" आशा भोसले 3:55
"मेरे सुखमें हे राम" महेंद्र कपूर 2:25
"ये राज़-ए-दिल तुम्हारा" लता मंगेशकर व समूह 3:55

रोचक तथ्य[संपादित करें]

परिणाम[संपादित करें]

बौक्स ऑफिस[संपादित करें]

समीक्षाएँ[संपादित करें]

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]