बृहद्रथ मौर्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

बृहद्रथ मौर्य राजवंश के अंतिम राजा थे। उन्होंने १९१ से १८४ ई॰पू॰ तक शासन किया।[1] यह सम्राट अशोक के वंशज थे।इसकी हत्या इसके ही सेनापति पुष्यमित्र शुंग के द्वारा 185 ई0पू0 को कर दी गई थी।पुष्यमित्र शुंग अंतिम तथा 10 वे मौर्य सम्राट बृहद्रथ मौर्य के ब्राह्मण और सबसे खूबसूरत पत्नी का सगा भाई था। इतिहासकार इस विवाह का कारण मौर्य साम्राज्य का दबाव मानते हैं। पुष्यमित्र शुंग ने धोखे से सम्राट की हत्या की थी। मौर्य वंश का अंतिम शासक राजा बनने से पूर्व ली जाने वाली आर्य प्रतिज्ञा की कसौटी पर खरा नहीं उतरा जो आगे चलकर सैनिक विद्रोह का कारण बना।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. राधेश्याम चौरसिया. History of Ancient India: Earliest Times to 1000 A. D [प्राचीन भारत का इतिहास: प्राचीन काल से १००० ई॰ तक] (अंग्रेज़ी में). अटलांटिक पब्लिशर्स. पृ॰ १२८. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788126900275.

braharath maurya is the last ruler of maurya dynasty . who was killed by his commander in chief pushyamitra sunga and start a new dynasty .