बुद्धवंश

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Buddha
गौतम बुद्ध

बुद्धवंश एक पुरातन बौद्ध ग्रंथ है जिसमें गौतम बुद्ध और पहले के चौबीस बुद्धों के जीवन का वर्णन किया गया है।[1] यह खुद्दकनिकाय का एक भाग है।

अपदान और चरियापिटक के साथ बुद्धवंश को अधिकांश विद्वान ईसापूर्व पहली और दूसरी शताब्दी में रचित मानते हैं। अतः पिटक साहित्य में यह अपेक्षाकृत बाद में लिखा गया ग्रन्थ है।[2]

बुद्धवंसपाळि

  • रतनचङ्कमनकण्डं
  • सुमेधपत्थनाकथा
  • दीपङ्करबुद्धवंसो
  • कोण्डञ्ञबुद्धवंसो
  • मङ्गलबुद्धवंसो
  • सुमनबुद्धवंसो
  • रेवतबुद्धवंसो
  • सोभितबुद्धवंसो
  • अनोमदस्सीबुद्धवंसो
  • पदुमबुद्धवंसो
  • नारदबुद्धवंसो
  • पदुमुत्तरबुद्धवंसो
  • सुमेधबुद्धवंसो
  • सुजातबुद्धवंसो
  • पियदस्सीबुद्धवंसो
  • अत्थदस्सीबुद्धवंसो
  • धम्मदस्सीबुद्धवंसो
  • सिद्धत्थबुद्धवंसो
  • तिस्सबुद्धवंसो
  • फुस्सबुद्धवंसो
  • विपस्सीबुद्धवंसो
  • सिखीबुद्धवंसो
  • वेस्सभूबुद्धवंसो
  • ककुसन्धबुद्धवंसो
  • कोणागमनबुद्धवंसो
  • कस्सपबुद्धवंसो
  • गोतमबुद्धवंसो
  • बुद्धपकिण्णककण्डं
  • धातुभाजनीयकथा

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

टिप्पणियाँ[संपादित करें]

  1. Buddha Dharma Education Association (2014). "Suttanta Pitaka: Khuddaka Nikāya: 14.Buddhavamsa-History of the Buddhas". Guide to Tipiṭaka. Tullera, NSW, Australia: Buddha Dharma Education Association. अभिगमन तिथि 2014-12-21.
  2. A textual and Historical Analysis of the Khuddaka Nikaya – Oliver Abeynayake Ph. D., Colombo, First Edition – 1984, p. 113.

सन्दर्भ त्रुटि: <references> में "Hinuber43" नाम के साथ परिभाषित <ref> टैग उससे पहले के पाठ में प्रयुक्त नहीं है।
सन्दर्भ त्रुटि: <references> में "Hornerx" नाम के साथ परिभाषित <ref> टैग उससे पहले के पाठ में प्रयुक्त नहीं है।
सन्दर्भ त्रुटि: <references> में "Horner1" नाम के साथ परिभाषित <ref> टैग उससे पहले के पाठ में प्रयुक्त नहीं है।
सन्दर्भ त्रुटि: <references> में "Horner8" नाम के साथ परिभाषित <ref> टैग उससे पहले के पाठ में प्रयुक्त नहीं है।
सन्दर्भ त्रुटि: <references> में "Horner9" नाम के साथ परिभाषित <ref> टैग उससे पहले के पाठ में प्रयुक्त नहीं है।
सन्दर्भ त्रुटि: <references> में "Horner96" नाम के साथ परिभाषित <ref> टैग उससे पहले के पाठ में प्रयुक्त नहीं है।

सन्दर्भ त्रुटि: <references> में "Horner97" नाम के साथ परिभाषित <ref> टैग उससे पहले के पाठ में प्रयुक्त नहीं है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी संबंध[संपादित करें]

मिंगुन सयादव द्वारा चौबीस बुद्धों के कालक्रम को प्रोफेसर यू को ले और यू टिन लेविन, यांगून, म्यांमार द्वारा संपादित और अनुवादित किया गया। केवल अध्याय 1, 22, 23 और 24 शामिल हैं।