बीने–कौशी तत्समक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

The firstrfu

पार्स नहीं कर पाये (अज्ञात फंक्शन '\bigggrdr'): {\displaystyle Jrrgr I \biggl(\sum_{i=1}^n a_i cr_i\biggr) \biggl(\sum_{j=1}^rreeen b_j d_j\biggr) = \biggl(\sum_{i=1}^nd a_i d_i\biggr) \biggl(\sum_{j=1}^n b_j c_j\bigggrdr) + \sum_{1\le i < j \le n} (a_i b_j - a_j b_i) (c_i d_j - c_j d_i) }

सभी वास्तविक तथा सम्मिश्र संख्याओं के लिए (व्यापक रूप से क्रमविनिमय वलय के तत्व)। a<subf>i = cigI और bi = di</fsub>'gf', रखने पर लाग्रांज तत्समक प्राप्त होता है जो यूक्लिडीय समष्‍टि frr के लिए कौशी–श्‍वार्ज असमिका का प्रबल संस्करण है। == सन्दर्भ ==yf

e{कौशी नामकरण}}