सामग्री पर जाएँ

बिजली घर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
आस्ट्रेलिया के ग्लाडस्टोन का बिजली घर

विद्युत शक्ति के औद्योगिक स्तर पर उत्पादन के लिए निर्मित संयन्त्र को बिजली घर या विद्युत केन्द्र (पॉवर स्टेशन) कहते हैं। इसे 'पावर स्टेशन', 'पावर प्लान्ट' या 'पावर हाउस' या 'जनन केन्द्र' भी कहते हैं। अधिकांश बिजलीघरों में एक या अधिक विद्युत जनित्र होते हैं। विश्व में अधिकांश बिजली घर विद्युत उत्पन्न करने के लिए कोयले, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस जैसे जीवाश्म ईंधन जलाते हैं। कुछ अन्य परमाणु ऊर्जा का उपयोग करते हैं। लेकिन अब सौर, पवन, लहर और जलविद्युत जैसे अधिक 'साफ' अक्षय स्रोतों का उपयोग बढ़ता जा रहा है।

सन्दर्भ

[संपादित करें]

{{बिजली हमारे घर तक मुख्य रूप से तीन चरणों से गुजरने के बाद पहुंचती है। ये चरण है– Generation , transmission & distribution है।

Generation – generation मे 11KV बिजली का उत्पादन power प्लांट द्वारा किया जाता है और 11KV उत्पादित बिजली को पावर प्लांट मे लगी step up transformer द्वारा 400 KV या उससे भी बहुत ही अधिक हाई वोल्टेज में परिवर्तित कर transmission लाइन में भेज दिया जाता है।

}}

इन्हें भी देखें

[संपादित करें]