बातू गुफाएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
बातू गुफ़ाएँ
பத்து மலை

बातू गुफ़ाओं में अंदर जाने का प्रवेश द्वार, जहाँ मुरुगन की विशाल प्रतिमा खड़ी हुई है
लुआ त्रुटि Module:Location_map में पंक्ति 450 पर: Unable to find the specified location map definition. Neither "Module:Location map/data/मलेशिया" nor "Template:Location map मलेशिया" exists।
निर्देशांक: 3°14′14.64″N 101°41′2.06″E / 3.2374000°N 101.6839056°E / 3.2374000; 101.6839056निर्देशांक: 3°14′14.64″N 101°41′2.06″E / 3.2374000°N 101.6839056°E / 3.2374000; 101.6839056
नाम
मुख्य नाम: बातूमलाई श्री सुब्रमण्यर स्वामी देवस्थानम
स्थान
देश: मलेशिया
राज्य: सलांगोर
जिला: गोम्बैक
अवस्थिति: क्वालालम्पुर के उत्तर में 13 किलोमीटर
वास्तुकला और संस्कृति
प्रमुख आराध्य: कार्तिकेय (मुरुगन)
स्थापत्य शैली: द्रविड़ वास्तुकला
इतिहास
निर्माण तिथि:
(वर्तमान संरचना)
1891
निर्माता: के॰ थम्बूसामी पिल्लै

बातू गुफ़ाएँ मलेशिया के गोम्बैक जिले में स्थित एक चूना पत्थर की पहाड़ी है जिसमें गुफ़ाओं व गुफ़ा मंदिरों की शृंखलाएँ हैं। यह पहाड़ी मलेशिया की राजधानी क्वालालम्पुर से 13 किलोमीटर (8 मील) दूर है। इसका यह नाम इसे पहाड़ी के पीछे बहने वाली बातू नदी से मिला है, इसके साथ ही पास के एक गाँव का नाम भी बातू गुफ़ा है। यहाँ की गुफ़ा भारत से बहार हिंदुओं का एक बहुत प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है, विशेष रूप से तमिल लोगों के लिए। गुफ़ा का मंदिर शिवपार्वती के ज्येष्ठ पुत्र कार्तिकेय (मुरुगन) को समर्पित है। यह स्थान मलेशिया में हिन्दुओं द्वारा मनाए जाने वाले त्योहार थाईपुसम का केंद्र बिंदु है।[1][2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "BATU CAVES, SELANGOR". tourism.gov.my. मलेशियाई सरकार. http://www.tourism.gov.my/destinations/detail.php?theme=CH&map_code=batucaves&state=selangor. अभिगमन तिथि: 24 जून 2012. 
  2. कृष्णामूर्ति, एम॰ (23 नवम्बर 2006). "Batu Caves now on world map for Hindu pilgrims". द स्टार ऑन्लाइन. http://thestar.com.my/news/story.asp?file=/2006/11/23/nation/16080858&sec=nation. अभिगमन तिथि: 24 जून 2012. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]