बस इतना सा ख्वाब है

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बस इतना सा ख्वाब है
अभिनेता अभिषेक बच्चन,
रानी मुखर्जी,
सुष्मिता सेन,
जय किशन श्राफ,
गुलशन ग्रोवर,
स्मिता जयकर,
हिमानी शिवपुरी,
शरत सक्सेना,
सुचित्रा पिल्लई मलिक,
राना जंग बहादुर,
प्रदर्शन तिथि(याँ) 6 जुलाई 2001
देश भारत
भाषा हिन्दी

बस इतना सा ख्वाब है 2001 में बनी हिन्दी फिल्म है, जिसका निर्देशन गोल्डी बहल और निर्माण मधु रमेश बहल ने किया है। इसमें अभिषेक बच्चन, रानी मुखर्जी, सुष्मिता सेन और जेकी श्रोफ मुख्य किरदार निभा रहे हैं। ये फिल्म सिनेमाघरों में 6 जुलाई 2001 में प्रदर्शित हुई।

कहानी[संपादित करें]

सूरज (अभिषेक बच्चन) एक गाँव में रहने वाला साधारण सा आदमी है, जो अपने कॉलेज की डिग्री पाने के लिए, बनारस से मुंबई आता है। उसकी मुलाक़ात पूजा (रानी मुखर्जी) से होती है और कुछ ही मुलाक़ात के बाद दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगते हैं।

सूरज का सपना बहुत ही बड़ा होता है। वो नावेद अली जैसा बनना चाहता है। एक दिन वो एक मरते हुए इंसान की जान बचाता है, जिससे वो नावेद को बहुत खुश कर देता है। वो उसे और उसकी एक सहकर्मी, लारा (सुष्मिता सेन) के साथ एक नए चैनल शुरू करने को कहता है।

धीरे धीरे वो एक चालक व्यापारी बन जाता है और पूजा की जगह लारा लेने लगती है। वो बस और आगे बढ़ने की सोचते रहता है और धीरे धीरे उसके सारे सपने पूरे होने लगते हैं। पर एक दिन उसे एहसास होता है कि नावेद उसका अपने गलत इरादों को पूरा करने और ताकत हासिल करने के लिए इस्तेमाल कर रहा है।

कलाकार[संपादित करें]

विवाद[संपादित करें]

दिल्ली पुलिस ने फिल्म निर्माता, तान्या बहल को मिला कर दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। उन दोनों पर फिल्म के शूटिंग के वक्त शहर के दो फोटोग्राफर को पीटने का आरोप लगा था।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Bas Itna Sa Khwaab Hai's nightmare!". rediff.com. 16 अप्रैल2001. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]