बरकत अली खान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बरकत अली ख़ान
जन्म १९०८
कसूर, पंजाब, ब्रिटिश भारत
मृत्यु १९ जून १९६३[1]
लाहौर, पाकिस्तान[1]
शैली

[[हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत

]]
व्यवसाय पटियाला घराने के शास्त्रीय संगीतकार, गीतकार और ग़ज़लकर

उस्ताद बरकत अली खान (जन्म: १९०५ मृत्यु: १९ जून १९६३) पंजाब से संबंध रखने वाले, पटियाला घराने के प्रख्यात शास्त्रीय संगीतकार और गायक थे।[2] वे उस्ताद अली बक्श खान कसूरी के पुत्र और उस्ताद बड़े ग़ुलाम अली साहब के छोटे भाई और मुबारक अली के बड़े भाई थे।

जीवनी[संपादित करें]

उस्ताद बरकत अली खान १९०५ को कसूर, पंजाब, ब्रिटिश भारत में जन्मे थे। उन्हें संगीत की शिक्षा अपने पिता, अली बक्श ख़ान से मिली। वे ठुमरी दादरा, ग़ज़ल और गीत शैलियों में पाण्डित्य रखते थे। उन्हें अपनी ठुमरी और ग़ज़ल के लिए जाना जाता था। उनकी ग़ज़ल गायिकी के लिए, १९५० के दशक में उन्होंने भारत और पाकिस्तान काफी प्रसिद्धि प्राप्त की थी। उन्होंने मशहूर ग़ज़लकर उस्ताद ग़ुलाम अली साहब को भी शिक्षा दी थी।

निधन[संपादित करें]

५५ वर्ष की छोटी आयु में ही, लाहौर, पाकिस्तान में, १९ जून सन १९६३ में उनकी अकस्मात मृत्यु हो गई थी।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Ustad Barkat Ali Khan's profile on The Friday Times (newspaper) Published 17 December 2013, Retrieved 20 March 2018
  2. Barkat Ali Khan and Mehdi Hassan, legends of ghazal-singing remembered, Dawn (newspaper), published 13 June 2012, Retrieved 20 March 2018
  3. 'King of Ghazal laid to rest amid sobs', The Nation newspaper, अभिगमन तिथि: 25 April 2017

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]