बम का निबटारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

बम का निबटारा वह विधि है जिससे खतरनाक विस्फोटक पदार्थो से सुरक्षित हुआ जा सकता है। मुख्य विस्फोटक निरीक्षक का मुख्यालय नागपुर में स्थित है तथा इसकी शाखाये आगरा, कोल्कता, गवाहटी, चंडीगढ़, मुंबई, चेन्नई, सिकन्दराबाद में स्थित है। इस काम के लिए सेना की निकटतम यूनिट की भी सहायता ली जाती है। और न्यायालयिक विज्ञान की प्रयोगशाला में भी बम का निबटारा करने के लिए विशेषज्ञ उपलब्ध है। बम का निबटारा करने की स्थिति में देशी बम, पाइप बम, ट्रांजिस्टर बम आदि को बिना हिलाए पानी से भरी बाल्टी में ७२ घंटो के लिए रख देने से उसमे मौजूद सारा बारूद गीला हो जाता है, जिससे वह बम विस्फोट नहीं होता। [1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Foster, Renita. "Unit kept one step ahead of enemy". Monmouth.army.mil. Archived from the original