बनारसी दास

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बाबू बनारसी दास (1912-1985) भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री थे। ये जनता पार्टी के सदस्ये थे।

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

बाबू बनारसी दास का जन्म उत्तर प्रदेश राज्य के बुलंदशहर जिले में सन् 1912 में हुआ था। बनारसी दास 28 फ़रवरी 1979 से 17 फ़रवरी 1980 तक उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री का पद पर आसीन रहे थे।[1]

श्री बनारसी दास 

पूर्व विधान सभा अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री , उत्तर प्रदेश

पिता का नाम श्री राम जी लाल
जन्‍मतिथि 8 जुलाई, 1912
जन्‍मस्‍थान अतरावली (बुलन्‍दशहर)
शिक्षा हाईस्‍कूल (गवर्नमेन्‍ट हाईस्‍कूल, बुलन्‍दशहर)
विवाहतिथि 15 फरवरी, 1936
पत्‍नी का नाम श्रीमती विद्यावती देवी
सन्‍तान पांच पुत्र, छ: पुत्री
निधन 03 अगस्‍त, 1985
जिन पदों पर कार्य किया
1946 विधान सभा के निर्विरोध सदस्‍य निर्वाचित
1952, मार्च पहली विधान सभा के सदस्‍य पहली बार निर्वाचित
1952,जुलाई 10 –1957 अप्रैल 10 सभा सचिव उत्तर प्रदेश
1962, मार्च तीसरी विधान सभा के सदस्‍य दूसरी बार निर्वाचित
1962, मार्च 14 –1963, जून 18 राज्‍यमंत्री, सूचना एवं संसदीय कार्य (श्री चन्‍द्र भानु गुप्‍त मंत्रिमण्‍डल)
1963,अक्टूबर 14 –1967,मार्च 13 मंत्री, सहकारिता, श्रम एवं संसदीय कार्य (श्रीमती सुचेता कृपलानी मंत्रिमण्‍डल)
1967, मार्च चौथी विधान सभा के सदस्‍य तीसरी बार निर्वाचित
1967 मंत्री, सिंचाई, विद्युत, श्रम एवं संसदीय कार्य
1972, अप्रैल 3-1977, जून 28 सदस्‍य, राज्‍य सभा
1977, मार्च 24 –1977, मार्च 30 अस्‍थायी सभापति, राज्‍य सभापति
1977,जून सातवी विधान सभा के सदस्‍य चौथी बार निर्वाचित
1977, जुलाई 12 -1979,फरवरी 26 अध्‍यक्ष, उत्‍तर प्रदेश विधान सभा
1979, फरवरी 28 –1980, फरवरी 17 मुख्य मंत्री उत्तर प्रदेश
1983 सदस्‍य, सातवीं लोक सभा (उप चुनाव)
विशेष अभिरूचि सामाजिक विषमताओं को दूर करना, शिक्षा का प्रसार।
अन्‍य जानकारी
  • सदस्‍य, कार्यकारिणी उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (1946)
  • सदस्‍य, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (30 वर्षों तक)
  • अध्‍यक्ष, उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (संगठन) (1970- 1973)
  • संस्‍थापक, ‘हमारा संघर्ष’ (साप्‍ताहिक पत्र)
  • अध्‍यक्ष, उत्‍तर प्रदेश ‘हरिजन सेवक संघ’ (1979- 1983)
  • संस्‍थापक व अध्‍यक्ष (आजीवन), खादी ग्रामोद्योग चिकन संस्‍थान
  • वर्ष 1930 में असहयोग आन्‍दोलन, वर्ष 1941 में व्‍यक्तिगत सत्‍याग्रह, वर्ष 1942 के भारत छोड़ो आन्‍दोलन में भाग लिया व जेल गये
  • वर्ष 1972 में दण्‍ड प्रकिया संहिता की धारा- 144 का निषेध करने के कारण 10 दिन जेल में रहे।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Chief Ministers" (अंग्रेजी में). uplegisassembly.gov.in. उत्तर प्रदेश विधान सभा. http://uplegisassembly.gov.in/CHIEF%20MINISTERS.HTM. अभिगमन तिथि: July 19, 2011.