बद्र की लड़ाई

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
बद्र अभियान का नक़्शा

बद्र की लड़ाई सन् 624 में नवोदित मुस्लिम गुट और मक्का के क़ुरैश क़बीले की सेना के बीच आधुनिक सउदी अरब के हिजाज़ क्षेत्र में 13 मार्च को लड़ा गया था । इसका उद्देश्य इससे पहले हुई एक ख़ानदानी लड़ाई में हुई हार का बदला लेना था । इसमें मुस्लमि सेनाओं का नेतृत्व उनके पैग़म्बर मुहम्मद ने किया था और अंततः उनकी जात हुई । इससे प्रभावित होकर ही कई लोग मुहम्मद साहब को ईश्वर का दूत समझने लगे थे और इससे प्रोत्साहित होकर ही मुस्लिम गुट बाद में (सन् 632 में) मक्का की ओर कूच कर पाया - जिस घटना को हिज्र भी कहते हैं।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. The development of exegesis in early Islam: the authenticity of Muslim ... By Herbert Berg.
  2. Quraish refers to the tribe in control of Mecca. The plural and adjective are Quraishi. The terms "Quraishi" and "Meccan" are used interchangeably between the Hijra in 622 and the Muslim Conquest of Mecca in 630.