बंडी संजय कुमार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बंडी संजय कुमार

अध्यक्ष, तेलंगाना भारतीय जनता पार्टी
पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
11 मार्च 2020
पूर्वा धिकारी डाॅ. के. लक्ष्मण

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
मई 2019
चुनाव-क्षेत्र करीमनगर

जन्म 11 जुलाई 1971 (1971-07-11) (आयु 50)
करीमनगर, तेलंगाना
राष्ट्रीयता  India
राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी
जीवन संगी श्रीमती अपर्णा
बच्चे 2
निवास करीमनगर, तेलंगाना
शैक्षिक सम्बद्धता मदुरई कामराज विश्वविद्यालय
पेशा व्यापार

बंडी संजय कुमार (जन्म 11 जुलाई 1971) तेलंगाना राज्य के एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं। वर्तमान में वह तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं।[1] वह भारतीय जनता पार्टी के सदस्य के रूप में भारतीय आम चुनाव 2019 में करीमनगर, तेलंगाना से भारत की संसद के निचले सदन लोकसभा के लिए चुने गए थे।[2][3]

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा[संपादित करें]

बंडी संजय का जन्म 11 जुलाई 1971 को बी. नरसैय्या और बी. शकुंन्तला के घर हुआ था। उन्होंने 1986 में करीमनगर में श्री सरस्वती शिशुमन्दिर उन्नात पाठशाला में अपनी माध्यमिक शिक्षा पूरी की। बंडी संजय 12 वर्ष की उम्र में संगठन में शामिल होने के साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में सक्रिय रहे। बाद में उन्होंने 2014 में तमिलनाडु में स्थित मदुरै कामराज यूनिवर्सिटी से लोक प्रशासन में मास्टर डिग्री प्राप्त की।

राजनीतिक जीवन[संपादित करें]

बंडी संजय अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद , आरएसएस के छात्र संघ से जुड़े थे। और अंततः शहर अध्यक्ष और संगठन के एक राज्य कार्यकारी सदस्य बने। वह भारतीय जनता युवा मोर्चा, भाजपा की युवा शाखा में भी शामिल थे। उन्होंने इस संगठन में नेतृत्व के पद प्राप्त कर लिये थे। वह नगर सचिव, नगर अध्यक्ष, केरल के राष्ट्रीय सचिव और तमिलनाडु के प्रभारी भी बने। 1996 में, भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी की सुराज रथ यात्रा के दौरान, जिसमें उन्होंने 35 दिनों तक पूरे भारत में अभियान चलाया। बंडी संजय ने "आडवाणी के वाहन के निर्बाध संचालन को सुनिश्चित करने" के लिए जिम्मेदार निभाई थी।

बंडी संजय 2005 में करीमनगर के 48 वें डिवीजन के लिए एक नगर निगम के पार्षद चुने गए थे। और 2019 में उनके इस्तीफे तक इस भूमिका में थे, जब वह लोकसभा के लिए चुने गए थे। बंडी को भी 2014 और 2018 में भाजपा ने तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार बनाया था। उन्होंने दोनों ही बार करीमनगर सीट से चुनाव लड़ा। हालाँकि वे दोनों चुनावों में असफल रहे और तेलंगाना राष्ट्र समिति के गंगुला कमलाकर से हार गए।

भारतीय आम चुनाव 2019 में बंडी संजय को भाजपा ने करीमनगर लोकसभा क्षेत्र से चुनावी मैदान में उतारा था। उन्होंने तत्कालीन सांसद तेलंगाना राष्ट्र समिति के बी. विनोद कुमार और कांग्रेस के पोन्नम प्रभाकर के खिलाफ चुनाव लड़ा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के पक्ष में समर्थन की लहर पर सवार होकर बंडी संजय 89,508 मतों के अंतर से चुने गए।

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "तेलंगाना के भाजपा अध्यक्ष बनाए गए बंडी संजय". Sakshi Samachar (अंग्रेज़ी में). 2020-03-11. मूल से 12 अप्रैल 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-05-24.
  2. "Bandi Sanjay Kumar bjp Candidate 2019 लोकसभा चुनाव परिणाम Karimnagar". Amar Ujala. अभिगमन तिथि 2020-05-24.
  3. "Bandi Sanjay Kumar News: जानिए बंदी संजय कुमार के लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के बारे मैं - NDTV India". khabar.ndtv.com. अभिगमन तिथि 2020-05-24.